अमृतसर। भारत सरकार की ओर से पाकिस्तानी सामान पर कस्टम ड्यूटी 200 फीसद किए जाने के बाद 150 के करीब पाक के सामान से लदे ट्रक वाघा में फंसे हुए हैं। इन ट्रकों को 16 फरवरी को भारत आना था। लेकिन कस्टम ड्यूटी में बढ़ोतरी के बाद पाक के सामान को लेने से भारतीय इंपोर्टरों ने इन्कार कर दिया है।

इससे जहां पाक कारोबारियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। वहीं भारत के कारोबारियों द्वारा एडवांस के तौर पर भेजे गए करोड़ों रुपये के माल की राशि भी पाकिस्तानी कारोबारियों के पास फंस गई है।

पाक कारोबारियों के लिए भी वाघा (पाक) में खड़े ट्रकों को वापस मंगवाना आसान नहीं, क्योंकि इसके लिए उन्हें अपने देश में कई औपचारिकताओं से गुजरना पड़ेगा।

पुलवामा में 14 फरवरी को सुरक्षा बलों पर आतंकी हमले के बाद भारत सरकार ने पाक पर आर्थिक दबाव बनाने के लिए 16 फरवरी को पाक से मोस्ट फेवर्ड नेशन (एमएफएन) का दर्जा वापस लिए था।

वहीं, कस्टम ड्यूटी भी 200 फीसद कर दी थी। एक तरफ भारत-पाक सीमा स्थित इंटेग्रेटेड चेक पोस्ट अटारी पर पिछले 9 दिनों में करीब 450 करोड़ रुपये का कारोबार प्रभावित हुआ है।

वहीं, वाघा सीमा पर पाक कारोबारियों छुहारा, सीमेंट और जिप्सम आदि के 150 से ज्यादा ट्रक तो दूसरी तरफ भारतीय इंपोर्टरों के करोड़ों रुपये फंस गए हैं।

इंडो-पाक चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के प्रधान प्रदीप सहगल ने कहा कि आईसीपी पर इंडो-पाक कारोबार बंद होने से जहां लेबर, कस्टम क्लीयरिग एजेंट बेरोजगार हुए हैं।

वहीं कारोबारियों का भी बहुत बड़ा नुकसान हो रहा है। इससे प्रभावित लोगों के लिए केंद्र सरकार को अवश्य कुछ सोचना चाहिए। वहीं, पाक से सीमेंट इम्पोर्ट करने वाले कारोबारी विक्रांत अरोड़ा ने बताया कि सीमेंट मंगवाने के लिए पाक कारोबारियों को एडवांस पेमेंट करनी पड़ती है। वे लोग करोड़ों रुपयों की अदायगी कर चुके हैं और सामान भी पाक में ही है। जो सामान ड्यूटी बढ़ाए जाने से पहले आइसीपी अटारी पर पहुंच चुका है, सरकार को उसे पुरानी ड्यूटी पर ही उठाने की इजाजत देनी चाहिए।

आइसीपी अटारी हिद मजदूर सभा उठाएगी बड़ा कदम : सूत्र बताते हैं कि बेरोजगार हुए आइसीपी अटारी हिद मजदूर सभा के सदस्य अगले कुछ दिनों में कुछ बड़ा कदम उठा सकते हैं।

वह या तो जेसीपी अटारी पहुंचने वाले सैलानियों को रिट्रीट सेरेमनी में जाने से रोकेंगे या फिर दिल्ली-लाहौर बस का घेराव कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि इसे देखते हुए जेसीपी अटारी पर बीएसएफ ने सुरक्षा प्रबंध कड़े कर दिए हैं।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Assembly elections 2021
Assembly elections 2021
 
Show More Tags