हैदराबाद। देश की मुस्लिम राजनीति में दबदबा कायम करने की जंग लड़ रहे एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने बिसाहड़ा कांड को लेकर उत्तर प्रदेश के मंत्री आजम खान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने यह मसला संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ले जाने के आजम के कदम का विरोध किया है।

बकौल ओवैसी, "अगर सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने आजम के कदम का समर्थन किया तो उप्र सरकार को बर्खास्त कर वहां पर राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। आजम खान पर भड़के हैदराबाद के सांसद ने कहा कि दादरी की घटना भारत का अंदरुनी मसला है और मुस्लिम अपने वतन से कभी नहीं लड़ सकते हैं।

ओवैसी ने मुलायम सिंह से सवालिया अंदाज में पूछा, "आजम के जरिये सपा किस तरह का संदेश देना चाहती है? इस मसले पर मैं देश के रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव की राय जानना चाहता हूं।" एआईएमआईएम नेता के अनुसार आजम खान का कदम संविधान विरोधी है। उप्र की सपा सरकार आम लोगों की हिफाजत करने में विफल साबित हुई है। इसी कारण बिसाहड़ा की घटना घटी है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना