PMVVY: वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण और वृद्धावस्था आय सुरक्षा से जुड़ी प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana pension scheme या पीएमवीवीवाई) की अवधि को अगले 3 साल के लिए बढ़ा दी गई है। यह योजना अब 31 मार्च, 2023 तक जारी रहेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट कमेटी ने यह फैसला किया गया। PMVVY वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक समाजिक सुरक्षा योजना है जो क्रय मूल्य और वार्षिक अंशदान पर सुनिश्चित रिटर्न के आधार पर उनको न्यूनतम पेंशन सुनिश्चित कराती है। PMVVY योजना के तहत प्रतिमाह 1000 रुपए की न्यूनतम पेंशन (सालभर के लिए) धनराशि प्राप्त करने के लिए 1,62,162 रुपए तक के न्यूनतम निवेश को संशोधित किया गया है।

2017 में हुई थी PMVVY की शुरुआत

यह योजना 2017 में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत एलआईसी से ऑनलाइन या ऑफलाइन निवेश कर लाभ उठाया जा सकता है। योजना 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए ही है।

अवधि बढ़ाए जानने के बाद वरिष्ठ नागरिकों के पास तीन साल और हैं कि वे इस स्कीम में निवेश कर बैंकों से अधिक ब्याज हासिल कर सकते हैं। इस योजना के तहत निवेश करने वालों को वित्त वर्ष 2020-21 में 7.4 फीसद की दर से प्रतिफल की गारंटी होगी और हर साल इसे निर्धारित किया जाएगा।

अब कितना निवेश कर सकते हैं

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (पीएमवीवीवाई) योजना के तहत अधिकतम 15 लाख रुपए का निवेश कर सकते हैं। पॉलिसी का कार्यकाल 10 वर्ष निर्धारित है। नए नियमों के तहत न्यूनतम निवेश राशि 1,56,658 रुपए कर दी गई है, जिससे 12,000 प्रति वर्ष पेंशन मिलेगी। वहीं हर महीने कम के कम 1000 रुपए की पेंशन के लिए 1,62,162 रुपए का निवेश तय किया गया है।

अब किस हिसाब से रिटर्न मिलता है

योजना के तहत वित्त वर्ष 2020-21 के लिए प्रतिवर्ष 7.4% का सुनिश्चित रिटर्न मिलेगा। वरिष्ठ नागरिक योजना में निवेश की गई राशि के आधार पर प्रति माह 1,000 की न्यूनतम पेंशन हासिल कर सकते हैं। अधिकतम पेंशन राशि 10,000 प्रति माह पर सीमित है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना