लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने ट्रिपल तलाक पीड़िताओं को बड़ी राहत दी है। सरकार ने ऐसी महिलाओं को 6000 रुपए सालाना पेंशन देने का फैसला किया है। ट्रिपल तलाक बिल संसद के दोनों पास होने के बाद केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए अधिसूचना जारी की थी। इस पर यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने तत्काल कार्रवाई शुरू कर दी थी। तब सीएम योगी ने तलाक पीड़िताओं से मुलाकात की थी और उनके सामने पेंशन देने का वादा किया था। हालांकि तब राशि तय नहीं हुई थी। अब वित्त मंत्रालय 6000 रुपए सालाना की राशि तय की है।

जानकारी के मुताबिक, नए साल में यह राशि मिल जाएगी। इसके बाद अगले वित्त वर्ष में इसके लिए अलग प्रावधान किए जाएंगे। उप्र में पिछले एक साल में 273 तीन तलाक के मामले दर्ज हुए हैं।

25 सितंबर को हुआ था संवाद

इससे पहले यूपी सरकार तीन तलाक पीड़ित महिलाओं का मुकदमा नि:शुल्क लड़ने का भी एलान कर चुकी हैं। इसके लिए गृह विभाग को व्यवस्था बना रहा है। इस साल 25 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी ने लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में तीन तलाक पीड़ित महिलाओं से संवाद कार्यक्रम में कहा था कि जिनके पास आवास नहीं हैं, उन्हें प्रधानमंत्री आवास या फिर मुख्यमंत्री आवास से घर दिया जाएगा। इन परिवारों को प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना या फिर मुख्यमंत्री आरोग्य योजना से स्वास्थ्य बीमा का लाभ दिया जाएगा। वक्फ संपत्तियों में भी इन्हें कैसे हक मिले, इसके लिए कार्य योजना बनाई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम मंडल स्तर पर भी होने चाहिए।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस