पवित्र त्योहारों का मौसम चल रहा है, लेकिन ग्रहकों की फिक्र किसी को नहीं है। ग्रहकों को बेवक़ूफ़ बनाने के लिए दुकानदार हमेशा आगे रहते है अपर जब ग्रहकों को वस्तुओं में कुछ गड़बड़ी दिखे तो यही दुकानदार दूर भागते है | उपभोक्ताओं को बिना किसी डर खौफ के घटिया दूषित वस्तुएं व सामग्री बेची जा रही है।

एक ऐसा ही मामला डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स (Department of Consumer Affairs) के सामने आया था जब एक ग्रेहक ने अपने बाइक के दोषपूर्ण हिस्से को बदलने से संबंधित शिकायत राष्ट्रीय उपभोक्ता हेल्पलाइन (एनसीएच) में दर्ज़ करवाई और मदद मांगी |

Jago Grahak-

क्या था मामला

उपभोक्ता ने अपने अधिकृत सेवा केंद्र को सर्विसिंग के लिए अपनी बाइक दिया था और सर्विसिंग सेंटर ने उससे सर्विसिंग देने से मना कर दिया था | इस पूरे मामले को उपभोक्ता ने डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स (Department of Consumer Affairs) में अपनी कंप्लेंट दर्ज़ करवाई और डिपार्टमेंट से उससे पूरा सहयोग, समर्थन व् संतोषजनक जवाब भी मिला | इसी के साथ साथ उसकी बाइक भी पूरी सर्विस हुई | इस पूरी कहानी को डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स (Department of Consumer Affairs) ने अपने सोशल मीडिया हैंडल Koo पर शेयर किया गया और उसके बाद से लगातार यूज़र्स अपने कमैंट्स के साथ कई शिकायतों डिपार्टमेंट्स के साथ शेयर कर रहे हैं |

क्या है डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स

डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स (Department of Consumer Affairs) , उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के तहत दो विभागों में से एक है। जून 1997 में इसे एक अलग विभाग के रूप में गठित किया गया था, क्योंकि देश में नवजात उपभोक्ता आंदोलन को बढ़ावा देने के लिए एक अलग विभाग का होना आवश्यक समझा गया था। यह विभाग उपभोक्ता के हित में लिया गया बेहद सराहनीय कदम है, जिससे कि उपभोक्ता अपने साथ होने वाली धोखाधड़ी तथा अन्य प्रकार की शिकायत विभाग में सरलता से कर सकते हैं।

यदि आप ऑनलाइन या ऑफलाइन शॉपिंग में ठगी का शिकार हुए हैं या किसी दुकानदार ने आपके साथ किसी भी प्रकार का छल किया है, तो अब घर बैठे मोदी सरकार के ई-दाखिल पोर्टल पर शिकायत दर्ज सकते हैं।

Posted By: Sandeep Chourey