Weather Alert 7 July 2021: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, 9 जुलाई से उत्तर पश्चिम भारत में छिटपुट से लेकर व्यापक वर्षा होने की संभावना है और 8 तारीख से उत्तराखंड में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की भी संभावना है। 8 जुलाई से मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़ में छिटपुट से व्यापक वर्षा होने की संभावना है। और 8 जुलाई को विदर्भ और छत्तीसगढ़ में भी बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। 9 तारीख से हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश में बारिशें शुरू हा जाएंगी और फिर 10 जुलाई से पूर्वी राजस्थान में बारिश का पूर्वानुमान है। पश्चिम यूपी के शेष हिस्सों, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली के कुछ और हिस्सों में 10 तारीख के आसपास दक्षिणपंथी मानसून के आगे बढ़ने की संभावना है। उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली के शेष हिस्सों में 10 जुलाई के आसपास मानसून की प्रगति की भविष्यवाणी की गई। मौसम विभाग द्वारा अब इन क्षेत्रों तक 10 जुलाई तक मानसून के पहुंचने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है। पहले आठ जुलाई तक मानसून के पहुंचने की संभावना जताई गई थी। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने कहा है कि 11 जुलाई के आसपास बंगाल की खाड़ी में पश्चिम-मध्य और उससे सटे उत्तर पश्चिम क्षेत्र के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। यह क्षेत्र ओडिशा के तट से दक्षिण और आंध्र प्रदेश के तट से उत्तर में हैं। अनुमान है कि बंगाल की खाड़ी से निचले स्तर पर चलने वाली नम पूर्वी हवाएं आठ जुलाई से पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में धीरे-धीरे मजबूत होंगी। इसके 10 जुलाई तक पंजाब और उत्तरी हरियाणा समेत उत्तर पश्चिम भारत तक फैलने की संभावना है।

यह है 36 घंटों का अनुमान

इस बार मानसून की बारिश के लिए इंतज़ार लंबा हो गया है लेकिन मौसम के जानकारों का अनुमान है कि इस साल अच्‍छी बारिश होगी। ताजा पूर्वानुमान बताते हैं कि अब सोमवार से शुरू हुए नए सप्‍ताह में मानसून गति पकड़ेगा और कई राज्‍यो में बारिश देखी जाएगी। स्‍कायमेट वेदर ने अनेक राज्‍यों में क्रमवार रूप से बारिश होने का अनुमान जताया है। आइएमडी ने कहा, इसके मुताबिक ही दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने और 10 जुलाई तक इसके पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के कुछ और भागों और दिल्ली के आसपास इलाकों तक पहुंचने की उम्मीद है। इसके चलते उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में 10 जुलाई से बारिश की संभावना बन रही है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को भविष्यवाणी की थी कि ओडिशा के कई जिलों में अगले 24 घंटों में भारी बारिश होगी। यहां जानिये कहां कैसी बारिश होगी।

- मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में 7-8 जुलाई से, राजस्थान में 9 तथा गुजरात में 10 जुलाई से बारिश बढ़ेगी।

- राजस्थान में 9 जुलाई से तथा गुजरात में 10 जुलाई से बारिश शुरू होने की संभावना है। मध्यप्रदेश में 8 जुलाई से तथा महाराष्ट्र में 7 जुलाई से बारिश बढ़ेगी।

- पूर्वी उत्तर प्रदेश बिहार पश्चिम बंगाल तथा पूर्वोत्तर राज्यों में तेज बारिश। दक्षिण भारत में मानसून अब धीरे-धीरे सक्रिय होने लगेगा।

- अगले 2 दिनों तक पूर्वी उत्तर प्रदेश बिहार पश्चिम बंगाल तथा पूर्वोत्तर राज्यों में तेज बारिश।

- पूर्वोत्तर भारत में भी भारी बारिश जारी रह सकती है। दिल्ली सहित पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आंधी के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।

- मानसून आगे बढ़ने का इंतजार जल्द खत्म होगा। पूर्वी भारत में तेज बारिश जारी।

- अगले 3 दिनों तक पंजाब सहित दिल्ली हरियाणा तथा पश्चिमी उत्तर प्रदेश का मौसम लगभग शुष्क रहेगा। राजस्थान के कुछ इलाकों में धूल भरी आंधी के साथ हल्की बारिश।

- पश्चिम बंगाल, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, विदर्भ, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, तटीय कर्नाटक, केरल तथा तमिलनाडु के कई भागों में तेज वर्षा की संभावना है।

- स्काईमेट के उपाध्यक्ष @Mpalawat ने @JagranNews को बताया "संभावना है कि जुलाई के दूसरे सप्ताह में दिल्ली एनसीआर सहित उत्तर भारत के ज्यादातर हिस्सों में मानसून की बारिश शुरू हो जाएगी। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी।"

ओडिशा के 7 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

मयूरभंज, क्योंझर, बालासोर, कंधमाल, बौध, कालाहांडी और गंजम जिलों के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। अगले पांच दिनों के लिए ओडिशा के जिलों के लिए मौसम पूर्वानुमान और चेतावनी जारी की गई है। बालासोर, भद्रक, जाजपुर, केंद्रपाड़ा, कटक, जगतसिंहपुर, पुरी, खुर्दा, नयागढ़, गंजम, गजपति, अंगुल, ढेंकनाल, क्योंझर, मयूरभंज, बौध, कालाहांडी जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। , कंधमाल, रायगडा, कोरापुट, सुंदरगढ़, झारसुगुडा और नबरंगपुर। बालासोर, भद्रक, जाजपुर, केंद्रपाड़ा, कटक, जगतसिंहपुर, पुरी, खोरधा, नयागढ़, गंजम, गजपति, क्योंझर, मयूरभंज, नबरंगपुर, मलकानगिरी, कोरापुट, कंधमाल जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. , ढेंकनाल, बौध। कोरापुट, रायगडा, गजपति, गंजम, कंधमाल, कालाहांडी, मयूरभंज, क्योंझर, बालासोर, भद्रक, बौध, कटक, नयागढ़, ढेंकनाल और अंगुल जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।क्योंझर, मयूरभंज, बालासोर, देवगढ़ और सुंदरगढ़ जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। बालासोर, भद्रक, क्योंझर, मयूरभंज, सुंदरगढ़, देवगढ़, झारसुगुड़ा, नबरंगपुर, नुआपाड़ा, बरगढ़, कालाहांडी, कोरापुट, बोलांगीर, सोनपुर और संबलपुर जिलों में एक या दो स्थानों पर बिजली के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है। बरगढ़, नुआपाड़ा, झारसुगुडा और सुंदरगढ़ जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। कोरापुट, मलकानगिरी, नबरंगपुर, कालाहांडी, कंधमाल, मयूरभंज, क्योंझर, बालासोर, भद्रक और जाजपुर जिलों में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

Posted By: Navodit Saktawat