जयपुर। राजस्थान की पिछली कांग्रेस सरकार के समय यहां की राजनीति में हलचल मचाने वाले भंवरी देवी अपहरण कांड पर आधारित फिल्म “डर्टी पाॅलिटिक्स” के पोस्टर पर राजस्थान विधानसभा के चित्र के मामले में सरकार ने फिल्म के निर्माता के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया है। हालांकि यह फिल्म करीब डेढ़ वर्ष पहले रिलीज हो चुकी है।

फिल्म डर्टी पाॅलिटिक्स के निर्माता निहाल फरहात और निर्देशक के.सी. बोकाडिया हैं। फिल्म मार्च 2015 में रिलीज हुई थी और उस समय राजस्थान विधानसभा में भाजपा के एक विधायक ने इस बात पर आपत्ति भी की थी कि राजस्थान विधानसभा की अनुमति के बिना ही इसके चित्र का इस्तेमाल फिल्म के पोस्टर व प्रचार सामग्री में किया जा रहा है। उन्होंने इस मामले में कार्रवाई की मांग भी की थी।

उस वक्त संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने मामले को गंभीर बताते हुए जवाब में कहा था कि यदि फिल्म में सदन का दृश्य है तो फिल्म देखने के बाद कार्रवाई की जाएगी। डेढ़ साल साल तक सरकार ने कुछ नहीं किया। अब अचानक मामला दर्ज कराया गया है।

जयपुर में ज्योतिनगर थाना प्रभारी रघुवीर सिंह ने बताया कि पर्यटन विभाग के निदेशक आशुतोष एटी पेडणेकर ने फिल्म के निर्माता निहाल फरहात और निर्देशक के.सी. बोकाडिया के खिलाफ राजस्थान ट्यूरिज्म ट्रेड एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है।

रिपोर्ट में आरोप लगाया गया है कि फिल्म के निर्माता निर्देशक ने प्रमोशन पोस्टर व सीडी कवर पर राजस्थान विधानसभा भवन का चित्र प्रकाशित किया है। इसके लिए जरूरी अनुमति नहीं ली गई।

Posted By: