Gochar May 2022: वृष राशि वालों के लिए मई का महीना खास रहनेवाला है। वजह ये है कि इस महीने दो महत्वपूर्ण ग्रह वृष राशि में राशि परिवर्तन करेंगे। पृथ्वी तत्व राशि वृषभ का स्वामी स्वामी शुक्र है। 13 मई को बुद्धि के देवता बुध इस राशि में अस्त हो रहे हैं। लेकिन दो दिनों के बाद, यानी रविवार 15 मई की सुबह 5:23 बजे सूर्य इस राशि में गोचर करनेवाले हैं। इस तरह वृष राशि में बुध और सूर्य की युति बनेगी। ज्योतिष में बुध और सूर्य की युति से "बुद्ध आदित्य योग" बनता है, जिसे बहुत शुभ फलदायक माना जाता है। वृष राशि में इस योग के बनने से मेष से लेकर मीन तक सभी राशि के जातकों पर प्रभाव पड़ेगा। आइए देखते हैं, इस योग का किस राशि कैसा प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि

इस राशि के बारहवें भाव यानी व्यय भाव में बुध-आदित्य योग बनेगा। इस दौरान कोई भी आर्थिक फैसला जल्दबाजी में ना कें, वरना बाद में नुकसान हो सकता है। इस अवधि में खर्चे बढ़ सकते हैं, इसलिए सोच-समझकर ही खरीदारी करें। प्रेम संबंधों और पारिवारिक जीवन में स्थितियां उतार-चढ़ाव से भरी रहेंगी, थोड़ा संभलकर चलें।

वृषभ राशि

इस अवधि में आपकी ही राशि में बुध और सूर्य का गोचर होने वाला है। लग्न में गोचर की वजह से आपको सभी क्षेत्रों में अनुकूल परिणाम मिलेंगे। इस दौरान आपके करियर में उन्नति के मौके आएंगे और कारोबारियों को व्यापार में विस्तार के नये अवसर मिलेंगे। शिक्षा से जुड़े लोगों को बुध की कृपा से कामयाबी मिलेगी और छात्रों को परीक्षा में अच्छे अंक मिलेंगे।

मिथुन राशि

बुध और सूर्य का गोचर आपकी राशि के दूसरे यानी आय भाव में होगा। इसके परिणामस्वरूप आपको धन संबंधी लाभ और कार्यक्षेत्र में अनुकूल परिणाम मिलने की उम्मीद है। इस दौरान विभिन्न स्रोतों से आय हो सकती है। कारोबारियों को मुनाफा होगा, या खर्च कम होने के खासी बचत हो सकती है। व्यापार में भी आपकी तरक्की होगी। कुल मिलाकर धन पक्ष के मामले में स्थितियां बेहतर होंगी।

कर्क राशि

यह योग आपके तीसरे भाव में बनेगा, जिससे आपका संघर्ष, साहस और पराक्रम बढ़ेगा। ऐसे में कोई भी फैसला जोश में ना लें और कोई बड़ा कदम उठाने से पहले उस पर अच्छी तरह विचार-विमर्श कर लें। इस दौरान आपको छोटे भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा और परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। जोश, गुस्से या साहस की वजह से कार्यस्थल पर आपकी कार्यकुशलता प्रभावित हो सकती है।

सिंह राशि

आपके चतुर्थ भाव में बुध आदित्य योग बन रहा है, जिससे नौकरीपेशा लोगों को उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। व्यापार से जुड़े लोगों को भी अपने अधीन काम करने वाले कर्मचारियों की आलोचना का शिकार होना पड़ेगा। ऐसे में धैर्य रखें और जल्दबाजी में कोई भी फैसला लेने से बचें। लेकिन सुख-सुविधाओं में कमी नहीं रहेगी और मकान, वाहन, भूमि आदि खरीदने का योग बन रहा है।

कन्या राशि

यह युति आपके पंचम भाव में बनेगी, जिससे आपकी संतान और शिक्षा पर सबसे ज्यादा प्रभावित होने वाले हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए ये समय ठीक नहीं है। लेकिन शिक्षा से जुड़े लोगों और विद्यार्थियों को भाग्य प्रबल होगा और उन्हें अपने क्षेत्र में विशेष सफलता मिलेगी। संतान के स्वास्थ्य का ख्याल रखें। उनकी पढ़ाई-लिखाई में बाधा की संभावना भी बन रही है।

तुला राशि

आपके छठे भाव में सूर्य-बुध की युति होगी, जिससे आपको अभी किसी भी प्रकार का कर्ज लेने से बचना होगा। साथ ही अगर हृदय, नेत्र और चर्म रोग को लेकर सावधानी बरतें। ये वक्त कोई नया काम शुरू करने का नहीं है, क्योंकि इसमें आपको लाभ कम और हानि ज्यादा हो सकती है। नौकरी और व्यवसाय में कड़े संघर्ष से तरक्की मिलेगी। इसलिए अपने काम पर ध्यान दें और पहले से ज्यादा मेहनत करें।

वृश्चिक राशि

यह बुध आदित्य योग आपके सप्तम भाव में बन रहा है। यदि आप विवाहित हैं, तो आपको कुछ प्रतिकूल परिणामों का सामना करना पड़ सकता है। क्योंकि इस दौरान आपकी पत्नी पर गुस्सा हावी रह सकता है। प्रेम संबंधों में तनाव की भी आशंका है। ऐसे में छोटी-छोटी बातों को लेकर जीवनसाथी के साथ विवाद ना करें और इस अवधि के दौरान शांति बनाये रखें। यही स्थिति पार्टनर के साथ भी हो सकती है। इसलिए कारोबार में भी छोटे-मोटे विवादों से दूर रहें।

धनु राशि

आपके अष्टम भाव में बुध-सूर्य की युति बनेगी, जिसके प्रभाव से विद्यार्थियों के ज्ञान में अधिकतम वृद्धि होगी। लेकिन ये समय अचानक घटित होनेवाली घटनाओं से जुड़ा है। इस दौरान एक्सीडेंट, ऑपरेशन, सर्जरी आदि के भी योग बन रहे हैं। लेकिन सूर्य के अनुकूल होने पर विशेष दिक्कत नहीं आएगी। वहीं आय के स्रोत अचानक दिख सकते हैं और कोई डूबा हुआ धन वापस मिल सकता है। इस दौरान क्रोध को काबू में रखें और आने वाले अवसरों पर नजर रखें।

मकर राशि

यह संयोग आपके नवम भाव में हो रहा है। जिससे आपको भाग्य का पूरा साथ मिलेगा और इससे आप विभिन्न माध्यमों से अच्छा धन प्राप्त कर पाएंगे। कार्यस्थल पर भी आपकी इच्छा के अनुसार स्थान परिवर्तन के योग बनेंगे। हालांकि प्रत्येक कार्य को करते समय आपको थोड़ा अधिक धैर्य और संयम बरतने की आवश्यकता होगी।

कुंभ राशि

यह युति आपके दशम भाव में बनेगी, जिससे आपके रोजगार और व्यवसाय में उन्नति होगी। आप अपनी बुद्धि से नौकरी या व्यवसाय में फायदा उठाने में सक्षम होंगे। मार्केटिंग या सेल्स का काम करने वालों के लिए ये समय विशेष फलदायक होगा। आपकी कार्यक्षमता में वृद्धि होगी और आप कार्यस्थल पर कोई बड़ा पद और मान-सम्मान पाने में सफल रहेंगे। धन पक्ष के मामले में आपको फायदा मिलेगा।

मीन राशि

मीन राशि के लिए आपके एकादश भाव में बुध-सूर्य की युति बन रही है। जिससे आपको आर्थिक जीवन में अधिकतम लाभ प्राप्त हो सकेगा। शिक्षा से जुड़े छात्रों को भी प्रगति में अपना अच्छा प्रदर्शन देने का अवसर मिलेगा। नौकरी में पदोन्नति या सैलरी में बढ़ोतरी के योग बन रहे हैं। रोजगार या व्यवसाय से जुड़े इंटरव्यू में आपको कामयाबी मिलेगी। इसलिए अगर ऐसे मौके दिख रहे हैं, तो उनके लिए फौरन प्रयास करें। वैसे कोई भी बड़ा निर्णय लेने से पहले घर के सदस्यों से सलाह जरुर लें।

Posted By: Shailendra Kumar