Shani Gochar 2020: शनि महाराज इस साल 24 जनवरी को राशि परिवर्तन कर रहे हैं। इस दिन वह धनु राशि से निकलकर अपनी स्वराशि मकर में प्रवेश करेंगे। संयोग से मौनी अमावस्या भी इसी दिन है। ज्योतिषियों के अनुसार यह महासंयोग 150 साल बाद बन रहा है। इसलिए इस दिन का बड़ा महत्व बताया जा रहा है। शनि महाराज एक राशि पर ढाई साल तक रहते हैं। इस दौरान कुछ राशियों पर साढ़ेसाती के चरण, शनि की ढैया और उनकी पनौती का प्रभाव रहेगा। शनि महाराज को न्याय का देवता माना जाता है इसलिए वह व्यक्ति को उसके कर्मों के हिसाब से फल देते हैं। न्याय करने में वह पूरी तरह से सत्य वचन बोलने वाले और ईमानदार लोगों के साथ रहते है और बुरे कर्म करने वालों को कठोर दंड देते हैं। अब जानते हैं इस दौरान यानी साल 2020 में विभिन्न राशियों पर कैसा रहेगा शनि महाराज का प्रभाव।

मेष

मेष राशि में इस साल शनि दसवें भाव यानी कर्म भाव पर गोचर करेगा। यह गोचर इस साल आपकी मेहनत और संघर्ष दोनों को बढ़ाएगा। मई तक सब कुछ सामान्य रहेगा, लेकिन मई में शनि के वक्री होने के कारण कामकाज में अड़चनें आ सकती है। मेहनत के अनुरूप फल नहीं मिल पाएगा। मोसमी बीमारियों को छोड़ दें तो स्वास्थ्य को लेकर यह साल सामान्य रहेगा। घर- परिवार का सहयोग मिलेगा और कामकाज में उत्साह बना रहेगा।

वृषभ

साल 2020 में शनि आपके नौवे भाव में गोचर करेगा। शनि के इस वर्ष भाग्य स्थान में होने से पिता के साथ संबंधों के लिए इसकी स्थिति शुभ नहीं है। पिता के साथ मतभेद हो सकते हैं। इस साल स्वास्थ्य का भी ख्याल रखना होगा। कार्यक्षेत्र में कड़ी मेहनत के बावजूद फायदा कम होगा। धैर्य से काम लेने से धीरे-धीरे कार्यों में सफलता मिलती जाएगी। कार्यस्थल में नौकरी में प्रमोशन के लिए लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। कार्यों को टालने से दिक्कत हो सकती है। नई नौकरी के लिए साल का शुरुआती समय ठीक है। वाणी संयम रखना जरूरी है।

मिथुन

मिथुन राशि के लिए साल 2020 में शनि का गोचर आठवे भाव मे रहेगा। आठवे भाव में शनि का गोचर शुभ नहीं कहा जा सकता है। कामकाज में रुकावट बनी रहेगी और दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। शनि की स्थिति इस राशि वालों के लाभ में कमी दिखा रही है। इसलिए खर्चों पर इस साल लगाम लगाने की जरूरत है। विदेश यात्रा को लेकर शनि की यह दशा शुभ संकेत दे रही है। विदेश से जुड़े कामकाज में सफलता मिल सकती है। जमीन से जुड़े मसलों में सफलता मिलेगी और पिछले समय से कोई विवाद चल रहा है तो वह हल हो सकता है।

कर्क

कर्क राशि में इस साल शनि का गोचर सातवें भाव में रहेगा। इस साल कारोबार को लेकर कुछ अहम फैसले ले सकते हैं। कुछ खास प्रोजेक्ट दूरस्थ स्थानों से मिलेंगे जिससे लाभ होने की उम्मीद है। इस साल काम मन लगाकर करने का समय है आलस्य से दूर रहें, नहीं तो शनि फल नहीं देंगे। वाहन चलाने में सावधानी रखें और संतान के स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहें। घर की साज-सज्जा पर धन खर्च होगा और इस काम में आपको परिवार का सहयोग मिलेगा। वाद -विवाद से दूर रहें और कोई पुरानी बीमारी परेशान कर सकती है। लापरवाही दिक्कत दे सकती है।

सिंह

सिंह राशि में इस साल शनि का गोचर छठे भाव में होगा। शनि का यह गोचर आपके लिए फलदायी रहेगा। शनिदेव आपको कार्य में मदद करेंगे और इस साल कामकाज को लेकर सही दिशा-निर्देश मिलेगा। काफी मेहनत करना पड़ेगी और संघर्ष की वजह से फुर्सत के क्षण निकाल नहीं पाएंगे। जमीन की खरीद को लेकर सोच-समझकर निर्णय लें आपके साथ धोखा होने के योग बन रहे हैं। नौकरी को लेकर बदलाव को लेकर सतर्क रहें। साल के मध्य तक इंतजार करें। स्वास्थ्य को लेकर समस्या हो सकती है। पुरानी बीमारी मानसिक तनाव की वजह बन सकती है।

कन्या

कन्या राशि में शनि का गोचर इस साल पांचवे भाव में हो रहा है। शनि का यह गोचर शिक्षा के क्षेत्र में सफलता के योग बना रहा है। रिसर्च के क्षेत्र में आपको कामयाबी मिलेगी और शनि की यह स्थिति आपको संजिदा और गंभीर बना देगी, जिससे आपकी निर्णय क्षमता काफी अच्छी हो जाएगी। कारोबार को लेकर इस साल भ्रम की स्थिति बनी रहेगी और कार्यक्षेत्र में भी सहयोगियों से स्थिति तनावपूर्ण रहेगी। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी और घर की साज-सज्जा पर खर्च होगा।

तुला

तुला राशि में शनि का गोचर इस साल चौथे भाव में हो रहा है। कारोबार के दृष्टिकोण से शनि का यह गोचर शुभ है। व्यापार में लाभ के अवसर मिलेंगे, लेकिन इस दौरान अहम की वजह से नुकसान हो सकता है। दूरस्थ स्थान के किसी प्रोजेक्ट से लाभ मिलने की संभावना है। कोई बड़ा निवेश करने के लिए यह समय शुभ नहीं है। जमीन संबंधी सौदे में भी सावधानी बरतने की जरूरत है। शनि जब वक्री होगा उस समय माता के साथ संबंध बिगड़ सकते हैं। इस दौरान मानसिक तनाव हो सकता है। वाद-विवाद से दूर रहें।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि में साल 2020 में शनि का गोचर तीसरे भाव में रहेगा। इस साल वृश्चिक राशि को बड़ी राहत मिलने जा रही है। पिछले कुछ सालों से चली आ रही तकलीफें खत्म हो जाएगी। इस साल की शुरूआत में इस राशि की साढ़े साती समाप्त हो जाएगी। कारोबार के विस्तार के लिए यह साल अच्छा है। आर्थिक स्थिति बेहतर बनी रहेगी और धन लाभ की संभावना है। शिक्षा को लेकर भी सफलता मिलेगी। माता के साथ मतभेद हो सकते हैं। कामकाज में किसी मित्र का सहयोग मिलेगा, लेकिन उसके साथ साझेदारी में न करें, नुकसान हो सकता है।

धनु

शनि का गोचर इस साल धनु राशि में दूसरे भाव में रहेगा। यह साल शनिदेव के आशीर्वाद से सफल रहेगा। आपकी राशि पर शनि की साढ़े-साती का आखिरी चरण है इस समय तकलिफों से आप बहुत कुछ सीख गए होंगे। कारोबार को लेकर यह साल अच्छे परिणाम दे सकता है। इस साल मेहनत और संघर्ष रहेगा लेकिन सफलता की उम्मीद भी की जा सकती है। आर्थिक मामलों के लिए शनि का यह गोचर शुभ नहीं कहा जा सकता है। विदेश यात्रा के योग हैं और जमीन से जुड़े मामलों में सफलता मिलेगी। माता-पिता का सहयोग मिलेगा। विदेश यात्रा के लिए शनि की यह दशा ठीक नहीं है।

मकर

मकर राशि में शनि साल 2020 में दूसरे भाव में गोचर कर रहा है। मकर राशि पर शनि की साढ़े साती का दूसरा चरण शुरू हो रहा है। यह समय दिक्कतों वाला है, लेकिन जीवन में काफी सीख देकर जाएगा। इस दौरान मानसिक परेशानी हो सकती है, लेकिन आर्थिक मामलों के लिए शनि का यह गोचर शुभ फल देगा। तनाव से नियंत्रण की सीख भी शनि से मिलेगी। कारोबार में लाभ के अवसर मिलेंगे। आपके व्यवहार में गंभीरता आएगी। जीवनसाथी के साभ मतभेद होने के संकेत हैं, लेकिन आपसी समझ और विनम्र होने से समस्या का समाधान हो जाएगा।

कुंभ

कुंभ राशि में शनि का गोचर इस साल बारहवें भाव में होगा। इसी के साथ इस साल कुंभ राशि वालों की शनि की साढ़े साती का प्रथम चरण शुरु हो जाएगा। शनि की साढ़े साती शुरू होने से आपके जीवन में संघर्ष बढ़ने की संभावना है। इस दौरान आपको जिंदगी की कई कड़वी हकीकतों से सामना होगा। रिश्तों में दूरियां बड़ेगी और नए रिश्तों के बनने की संभावना है। जीवनसाथी से संबंध बिगड़ सकते हैं। कारोबार में निवेश सोच-समझकर करें। घर की सजावट पर खर्च हो सकता है।

मीन

मीन राशि वालों के लिए साल 2020 में शनि का गोचर शुभ रहेगा। मीन राशि में शनि गोचर ग्यारहवें भाग में होगा। इससे व्यापार में अच्छे अवसर प्राप्त होंगे और लाभ की स्थिति बनी रहेगी। सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ने से कई अवसर मिलेंगे और समाज में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी। जीवनसाथी के साथ संबंध बेहतर रहेंगे और विवाह योग्य युवक-युवतियों को विवाह के प्रस्ताव प्राप्त होंगे। साल काफी खुशहाल रहेगा। स्वास्थ्य के हिसाब से भी यह साल आपके लिए अच्छा रहेगा।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket