Bathroom Vastu Tips: हमारे आसपास कई चीजे हैं, जो वास्तु शास्त्र के नियमों से जुड़ी होती हैं। जानकारी नहीं होने कारण लोग वास्तु दोष का शिकार हो जाते हैं। इस कारण न चाहते हुए भी जीवन में नकारात्मक परिणामों को झेलना पड़ता है। इनमें से एक बाथरूम के वास्तु नियम है। वास्तु शास्त्र में बाथरूम के कुछ नियमों के बारे में बताया गया है। आइए जानते हैं इस बारे में।

हर चीज सही स्थान पर हो

वास्तु शास्त्र में सकारात्मत प्रभावों के लिए हर चीज का उचित दिशा और सही जगह पर रखना जरूरी है। इसमें बाथरूम भी शामिल है। वास्तु के अनुसार बाथरूम में हर चीज सही से रखी होनी चाहिए। इसमें बाल्टी भी शामिल है। खाली बाल्टी आर्थिक संकट का कारण बनती है।

खाली बाल्टी लाती है आर्थिक संकट

वास्तु शास्त्र के अनुसार नहाने के बाद बाथरूम में बाल्टी को खाली नहीं रखना चाहिए। ऐसा करना अशुभ होता है। वास्तु के अनुसार यदि आप बाथरूम में खाली बाल्टी रखते हैं, तो ये आर्थिक संकट का कारण बनता है। पैसों की आमदन बंद होने लगती है। इसलिए नहाने के बाद बाल्टी में थोड़ा पानी रहने दें।

इस रंग की बाल्टी का करें उपयोग

वास्तु जानकरों के अनुसार बाथरूम में नीले रंग की बाल्टी का प्रयोग करना चाहिए। नीला रंग शनि और राहु के अशुभ प्रभावों को कम करता है। वहीं बाथरूम में नीले रंग की टाइल्स लगवाना भी शुभ माना गया है।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close