Happy Janmashtami 2020 Wishes: देश में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम शुरू हो गई है। लॉकडाउन के कारण इस बार मंदिरों में उत्साह कम रहेगा, लेकिन भक्त अपने घरों में तो कान्हा का जन्म धूमधाम से मनाएंगे। 11 तारीख से ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाइयों का दौर शुरू हो जाएगा जो 12 अगस्त की देर रात तक चलेगा। लोग एक दूसरे को व्हाट्सऐप पर बधाइयां देंगे। बधाई संदेश अभी से आने लगे हैं। हम भी आपके लिए कुछ खास बधाई संदेश लेकर आए हैं, जिनके माध्यम से आप कान्हा के दीवानों को उनके लाड़ले के जन्म की शुभकामनाएं दे सकते हैं। जानिए ऐसे ही कुछ चुनिंदा संदेश और नीचे देखिए भजन के वीडियो

ए जन्नत अपनी औकात में रहना

हम तेरी जन्नत के मोहताज नहीं

हम श्री बांकेबिहारी के चरणों में रहते हैं

वहां तेरी भी कोई औकात नहीं

*********************************

जिस पर राधा को मान है

जिस पर राधा को गुमान है

यह वही कृष्ण हैं जो राधा

के दिल हर जगह विराजमान हैं

*********************************

बाजार के रंगो में रंगने की मुझे जरुरत नहीं

मेरे कान्हा की याद आते ही ये चेहरा गुलाबी हो जाता है

*********************************

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे

एक बार आ गए तो कभी नहीं जायेंगे

*********************************

सुध-बुध खो रही राधा रानी

इंतजार अब सहा न जाएं

कोई कह दो सावरे से

वो जल्दी राधा के पास आएं

*********************************

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा

पूरे खत में सिर्फ कान्हा-कान्हा नाम लिखा

*********************************

कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे

जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं

*********************************

राधा के हृदय में श्री कृष्ण

राधा की सांसों में श्री कृष्ण

राधा में ही हैं श्री कृष्ण

इसीलिए दुनिया कहती हैं

राधे-कृष्ण राधे-कृष्ण

*********************************

फूलो में सज रहे हैं श्री वृंदावन बिहारी

और साथ सज रही है वृषभानु की दुलारी

टेड़ा सा मुकुट रखा है कैसे सर पर

करुणा बरस रही है करुणा भरी निगाह से

बिन मोल बीक गयी हु जबसे छबि निहारी

फूंलों मे सज रहे हैं श्री वृंदावन बिहारी

*********************************

कृष्ण की प्रेम बांसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी

जब-जब कान्हा मुरली बजाएं दौड़ी आये राधा रानी

आज गुलशन का नज़ारा नायाब होगा।

सबके गुलाबसे प्यारा मेरा गुलाबमेरा “कान्हा” होगा।

********************

गोविंद तेरी चाहत में रुसवा यूं सरे बाज़ार हो गये,

हमने ही दिल खोया और हम ही गुनाहगार हो गये.

जय श्री राधे राधे

*********************

वाह रे मेरे साँवरे,

तुँ और तेरा इश्क,

जो तुझे जान ले,

तुँ उसी की जान ले.

राधे राधे

************************

मेरे प्यारे सांवरिया,

तेरी फूल सी फितरत,मेरा काटेंदार वजूद.

तो क्यों ना मिलकर हम गुलाब हो जाएं.

राधे राधे

************************

रंग बदलती दूनियाँ देखी देखा जग व्यवहार,

दिल टूटा तब मन को भाया ठाकुर तेरा दरबार राधे राधे

राधा मुरली-तान सुनावें

छीनि लियो मुरली कान्हा से

कान्हा मंद-मंद मुस्कावें

राधा ने धुन,प्रेम की छेड़ी

कृष्ण को तान पे,नाच नचावें

****जय श्री राधे कृष्णा****

************************

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे,

एक बार आ गए तो कबू नहीं जायेंगे.

************************

राधा की कृपा, कृष्णा की कृपा,

जय पे हो जाए,

भगवान को पाए,

मौज उड़ाए…. सब सुख पाए….!!

जय श्री राधे**

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020