Manas Puja : हिन्दू धर्म में अनगिनत देवी और देव हैं। उनकी पूजा व आराधना करने के उपाय भी भिन्न-भिन्न हैं। जो व्यक्ति धर्म में विश्वास रखते हैं वे अवश्य ही किसी न किसी देव की पूजा अवश्य करते होंगे। इसके अतिरिक्त वे एक देव को सबसे अधिक मानते होंगे या कहे कि उनका कोई न कोई ईष्ट देव होगा। जैसे, यदि आप हनुमान जी में अधिक विश्वास रखते है, उनकी पूजा-आराधना करते है, इस प्रकार से हनुमान जी आपके ईष्ट देव हैं। आप हनुमान जी को प्रसन्न करने हेतु उन्हें चौला चढ़ाते हैं, व्रत रखते है, प्रसाद वितरण करते हैं, बजरंग बाण, हनुमान चालीसा पढ़ते है, उन्हें पुष्प अर्पित करते हैं नैवेद्य अर्पित करते है, उन्हें भोग लगाते हैं। इस प्रकार से आप हनुमान जी के प्रति अपनी श्रद्धा और विश्वास की शक्ति को प्रकट करते हैं। यहां हम आपको बताने जा रहे हैं मानस पूजा से जुड़ी कुछ जरूरी बातें।

क्या है मानस पूजा

मानस पूजा, जैसा कि इसके नाम से ही प्रकट होता है, मन से की जाने वाली पूजा ही मानस पूजा कहलाती है। इसमें आप भौतिक रूप से अपने ईष्ट देव को कुछ भी अर्पित नहीं करते हैं। इस पूजा में भौतिक रूप से न पुष्प अर्पित करते हैं, न नैवेद्य अर्पित करते हैं, न जल अर्पित करते हैं और न ही कोई भी अन्य भौतिक वस्तु अर्पित करते हैं, बल्कि यह केवल और केवल मन से की जाने वाली पूजा है। मानस पूजा को शास्त्रों में सबसे शक्तिशाली पूजा माना गया है। इस पूजा में अपने ईष्ट देव के प्रति भक्त की श्रद्धा इतनी अधिक और अटूट होती है जो एक देव को किसी अन्य भौतिक वस्तु की अपेक्षा अधिक प्रिय है।

यह किया जाता है अर्पित

मानस पूजा में अपने ईष्ट देव को कल्पनाओं का पुष्प, आसन, नैवेद्य, आभूषण आदि अर्पित किया जाता है। कोई भी देवी-देवता को किसी भौतिक वस्तु की आवश्यकता नहीं होती। वे भावना के भूखे हैं। ऐसी भावना जिसमें अटूट श्रद्धा एवं भक्ति समाहित हो। निर्मल शक्ति से ईष्ट देव को अधिक प्रसन्नता प्राप्त होती है। पूजा अर्चना अथवा साधना में भावना का निर्मल होना परम आवश्यक है। इन्हीं कारणों से मानस पूजा सर्वश्रेष्ठ पूजा मानी जाती है।

(उक्‍त आलेख हस्तरेखातज्ञ विनोद्जी पंडित गुरुजी से प्राप्‍त जानकारी के अनुसार)

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020