इंदौर। पारिवारिक विवाद के चलते वकील के बेटे ने सिरपुर तालाब में कूदकर जान दे दी। सोमवार सुबह उसकी लाश फायर ब्रिगेड और चंदन नगर पुलिस ने तालाब से निकाली। उसकी जेब से सुसाइड नोट मिला।

पुलिस के मुताबिक जिंसी में रहने वाले वकील इकबाल खान मिर्जा का 30 वर्षीय बेटा इमरान रविवार दोपहर 3 बजे भाई अयूब की बाइक लेकर घर से निकला था। उसके बाद नहीं लौटा। परिजन ने गुमशुदगी दर्ज कराई। चंदन नगर पुलिस को पता चला कि कोई लड़का तालाब में कूदा है। जब उसे तालाब में नहीं ढूंढ पाए तो फायर ब्रिगेड पुलिस ने उसे ढूंढना शुरू किया। तालाब के कीचड़ में उसकी लाश धंसी थी। लावारिस हालत में मिली बाइक के नंबर के आधार पर तलाश की गई तो इकबाल का पता मिला। इकबाल और उनके परिजन से शव की शिनाख्त कराई।

बहन को सौंप दो बेटी

पुलिस ने बताया कि इमरान रेडीमेड कारखाने में काम करता था। उसकी जेब से मिली पर्ची में लिखा था कि वह मर्जी से जान दे रहा है। उसने माता-पिता से माफी मांगी। यह भी लिखा था कि बेटी जैनब को राजस्थान में रहने वाली बहन रानी को सौंप दिया जाए। परिजन ने बताया कि इमरान का ढाई साल पहले निकाह हुआ था। परिजन का कहना है इमरान को बहुत गुस्सा आता था। उसका पत्नी से विवाद हो गया था। -नप्र