अहमदाबाद। गुजरात सरकार ने गांधीनगर स्थित भास्कराचार्य इन्स्टीट्यूट फॉर स्पेस एप्लीकेशन एण्ड जियों इन्फर्मेटिक्स बायसेग द्वारा 16 नए टीवी चैनल शुरु करने का निर्णय किया है। गुजरात सरकार की नोडल एजेंसी के तौर पर कार्यरत बायसेग को भारत सरकार के अंतरीक्ष विभाग ने दूरदर्शन के सेटेलाइट का उपयोग करने की स्वीकृति दी है। इससे अब गुजरात सरकार सेट कोम नेटवर्क गुजसेट के कार्यक्रम को प्रस्तुत करने वाला चैनल डीडी की डायरेक्ट टू होम सर्विस से निःशुल्क देखा जा सकेगा।

गुजसेट आज भी दो चैनल द्वारा टेक्नोलाजी, स्वास्थ्य तथा कृषि सहित विविध विषयों की तालीम, शिक्षा एवं विस्तरण कार्यक्रमों का प्रसारण करता है। आजकल इस सुविधा का उपयोग पंचायत एवं शिक्षा सस्थाओं तक ही सीमित है। क्योंकि इनका प्रसारण बायसेग के सेटेलाइट द्वारा किया जाता है।

अब जब भारत सरकार ने दूरदर्शन के सेटेलाइट का उपयोग करने के लिए सकारात्मक रुख अपनाया है तो ध्यान में रखते हुए राज्य के साइंस एवं टेक्नोलाजी विभाग ने शीघ्र ही 24 घंटे की नए 16 चैनल शुरु करने का निर्णय किया है।

सूत्रों की मानें तो 16 में से 12 चैनल द्वारा साइंस टेक्नोलाजी गणित, स्वास्थ्य और लोक शिक्षा जैसे शैक्षणिक कार्यक्रम प्रसारित किए जाएंगे। विधार्थी, शिक्षक और तकनीक सीखने की लालसा वाले नागरिकों के लिए यह लाभकारी होगा।

अन्य दो चैनल का उपयोग सरकारी योजनाओं, लोकप्रश्न संवाद वगैरह के लिए किया जायेगा। इससे गुजरात में घर-घर बायसेग चैनल का सरलता से प्रसारण होगा।

Posted By: