पुणे। अब मशहूर लेखिका अरुंधती राय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। उनका आरोप है कि हिंदू राष्ट्रवाद की आड़ में मोदी सरकार ब्राह्मणवाद को बढ़ावा देने में जुटी है। बकौल अरुंधती, "मौजूदा समय में अल्पसंख्यक समुदाय के लोग जिस तरह के भय के माहौल में जी रहे हैं, उसको परिभाषित करने के लिए "असहिष्णुता" जैसे शब्द पर्याप्त नहीं हैं।

समाज सुधारक महात्मा ज्योतिबा फुले पुरस्कार से सम्मानित होने के मौके पर शनिवार को अरुंधती राय ने उपरोक्त टिप्पणी की। अपने संबोधन में उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि सत्ताधारी पार्टी समाज सुधारकों को महान हिंदू के रूप में महिमा मंडित कर रही है। भाजपा डॉ. अंबेडकर का इसी रूप में गुणगान कर रही है।

हालांकि डॉ. अंबेडकर ने हिंदू धर्म का परित्याग कर दिया था। अरुंधती के मुताबिक इतिहास को फिर से लिखने की कोशिश हो रही है। उनके इस कथन का समारोह स्थल पर मौजूद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं ने विरोध किया। एबीवीपी के प्रदर्शनकारियों ने अरुंधती को राष्ट्र विरोधी और पाकिस्तान समर्थक करार देते हुए नारेबाजी की।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket