Microsoft Layoff: पूरी दुनिया में टेक कंपनियों में छंटनी का दौर चल रहा है। अब इसमें माइक्रोसाफ्ट का नाम भी शामिल हो गया है। कंपनी ने कठिन आर्थिक हालात और उपभोक्ता प्राथमिकताओं में बदलाव के चलते 10 हजार कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा की है। यह कंपनी के कुल श्रमबल का करीब पांच प्रतिशत है।

माइक्रोसाफ्ट में करीब 2.20 लाख कर्मचारी कार्यरत हैं। इसमें ब्रिटेन में कार्यरत छह हजार कर्मचारी भी शामिल हैं। कंपनी ने कहा कि छंटनी से प्रभावित कर्मचारियों को सूचना दे दी गई है। इसमें से कुछ की छंटनी तत्काल प्रभाव से शुरू हो गई है।

माइक्रोसाफ्ट ने कहा कि हार्डवेयर पोर्टफोलियो में बदलाव और किराये के कार्यालयों का एकीकरण किया जाएगा। इससे करीब 1.2 अरब डालर की बचत होगी।

दूसरी ओर, घरेलू आटोमोबाइल आफ्टर सेल्स सर्विस स्टार्टअप गोमैकेनिक ने वित्तीय रिपोर्टिंग में गड़बड़ी की बात सामने आने के बाद करीब 70 प्रतिशत कर्मचारियों की छंटनी का एलान किया है। इससे करीब एक हजार कर्मचारी प्रभावित होंगे।

दिलचस्प बात यह है कि इस कदम की घोषणा करते हुए माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने इसे जरूरी बताया ताकि कंपनी अल्पकालिक और दीर्घकालिक अवसरों पर ध्यान केंद्रित कर सके। कंपनी में छंटनी के बारे में नडेला ने Microsoft कर्मचारियों के लिए ब्लॉग पोस्ट भी लिखा।

माइक्रोसॉफ्ट ने पिछले साल भी की थी छंटनी

वहीं द वर्ज की एक अन्य रिपोर्ट में इसकी पुष्टि करते हुए लिखा गया है कि यह कंपनी की अब तक की सबड़े बड़ी छंटनी है। पिछले साल कोरोना काल के वक्त माइक्रोसॉफ्ट ने 1 प्रतिशत की छंटनी की थी।

पिछले साल अक्टूबर में कंपनी ने करीब 1000 कर्मचारियों को बाहर निकाला था। तब कंसल्टेंट और कस्टमर तथा पार्टनर सॉल्यूशन्स विभागों पर गाज गिरी थी।

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट पर अपनी क्लाउड इकाई एज़्योर को लेकर दबाव में है। व्यक्तिगत कंप्यूटर बाजार में लंबे समय की गिरावट के चलते विंडोज और उपकरणों की बिक्री में कंपनी को नुकसान हो रहा है।

एक रिपोर्ट के अनुसार, 30 जून 2022 तक कंपनी के पास 2,21,000 पूर्णकालिक कर्मचारी थे, जिनमें 1,22,000 संयुक्त राज्य अमेरिका में और 99,000 दुनिया के अन्य देशों में सेवाएं दे रहे थे।

जनवरी के पहले छह दिनों में 30 कंपनियों के कुल 30,611 लोगों को निकाल दिया गया है। Amazon के अलावा, इस लिस्ट में वीडियो होस्टिंग प्लेटफॉर्म Vimeo, तकनीकी दिग्गज Salesforce, क्रिप्टो एक्सचेंज हुओबी और कई अन्य बड़ी कंपनियां शामिल हैं।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close