किडनी को हमेशा स्वस्थ रखेंगी ये आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां


By Shailendra Kumar2023-05-10, 19:00 ISTnaidunia.com

दवाईयों का असर

बीमारियों के वक्त खाई जानेवाली दवाईयों का असर किडनी पर भी पड़ता है। खासतौर पर एंटी-बायोटिक्स का।

दवाएं लेना मुश्किल

ऐसे में किडनी के कमजोर होने या इसकी बीमारी में किसी भी तरह की एलोपैथिक दवाएं लेना मुश्किल होता है।

सुरक्षित रहेगी किडनी

कुछ खास आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल आपकी किडनी को सुरक्षित और सेहतमंद रख सकता है।

पुनर्नवा

पुनर्नवा का इस्तेमाल आपकी किडनी को सुरक्षित रखता है। जिन्हें पहले से ही किडनी से जुड़ी बीमारियां हैं, उनके लिए भी ये फायदेमंद है।

गोखरू

गोखरू में यूरिक एसिड, क्रिएटिनिन और किडनी स्टोन कम करने के गुण पाए जाते हैं, जो क्रोनिक किडनी डिजीज का खतरा कम करते हैं।

वरुणा

किडनी के मरीजों को वरुणा से बनी दवाएं दी जाती हैं। ये किडनी स्टोन को विकसित होने से रोकने और निकालने में मदद करती है।

गिलोय बेल

गिलोय की बेल बुखार, गठिया और डेंगू समेत किडनी की क्रोनिक बीमारियों में भी फायदेमंद मानी जाती है।

चंदन

चंदन एक डाइयुरेटिक की तरह काम करता है, जो किडनी से जुड़ी बीमारियों को दूर करने मे मदद करता है।

इन आसान उपायों से मैनेज करें हर्निया