धीमा जहर है मैदा, ज्यादा खाएंगे तो होगी ये गंभीर बीमारियां


By Sandeep Chourey2023-05-10, 14:18 ISTnaidunia.com

बीमारियों का खतरा

आजकल मैदा युक्त खाद्य सामग्री का सेवन बढ़ गया है और इसके अधिक सेवन से कई शारीरिक दिक्कतें हो सकती है।

पोषक तत्व नहीं

गेहूं में से पौष्टिक तत्व निकालने के बाद बचे हुए पदार्थ को ब्लीच कर मैदा बनाया जाता है। मैदे में कोई भी पौष्टिक तत्व नहीं होते हैं, इसलिए यह नुकसान पहुंचाता है।

फूड एलर्जी का खतरा

मैदे में ग्लूटेन होता है, जो फूड एलर्जी को पैदा करता है। यह खाने को लचीला बनाकर उसको मुलायम टेक्सचर देता है। गेहूं के आटे में ढेर सारा फाइबर और प्रोटीन होता है।

कैल्शियम की कमी

मैदा बनाते वक्त इसमें से प्रोटीन निकाल लिया जाता है। इसके ज्यादा सेवन से एसिडिटी की समस्या होती है। यह हड्डियों से कैल्शियम को खींच लेता है।

गठिया की बीमारी

मैदा अधिक खाने वाले लोगों को गठिया की समस्या हो सकती है। कैल्शियम की कमी होने से हड्डियों कमजोर होने लगती है।

डायबिटीज की समस्या

मैदा खाने से डायबिटीज की बीमारी हो सकती है। मैदा शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ा देता है., शरीर में इंसुलिन का बढ़ना रूक जाता है।

मोटापा बढ़ाए

बहुत ज्यादा मैदा खाने से वजन बढ़ता है। शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल और खून में ट्राइग्लिसराइड भी बढ़ता है। हार्ट पर भी असर होता है।

पेट के रोग

मैदे के ज्यादा सेवन करने से पेट संबंधी कई रोग हो सकते हैं। मैदे में फाइबर की मात्रा नहीं होती है और इस कारण यह आसानी से पच नहीं पाता है।

कृति सेनन के शानदार साड़ी लुक्स