कराची। पाकिस्‍तान एक तरफ तो सीमा पर भारत के खिलाफ आग उगल रहा है वहीं दूसरी तरफ उसके नेता हिंदू देवी-देवताओं की पूजा करते नजर आ रहे हैं। मामला कराची का है जहां पाकिस्‍तान पिपुल्‍स पार्टी के नेता बिलावल भुट्टो शिव मंदिर में पूजा करते नजर आए। पाकिस्‍तान में अल्‍पसंख्‍यक हिंदू समुदाय ने भी दिवाली का त्‍यौहार मनाया इस मौके पर उनके साथ बिलावल भुट्टो भी मौजूद थे।

पाकिस्तान में वैसे तो अल्पसंख्यक हिंदुओं पर जमकर अत्‍याचार होते हैं लेकिन जब वोट की रोटियां सेकने की बात आती है तो उनकी याद वहां के नेताओं को आ जाती है। इसी का नजारा दिवाली पर दिखा जब कराची के क्लिफ्टन में पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो ने शिव मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की।

ये तस्वीर बेहद खास इसलिए भी है कि मंदिर में पूजा-अर्चना के दौरान केवल एक एक पार्टी का मुखिया ही नहीं मौजूद था,बल्कि सिंध की सरकार भी मौजूद थी। सिंध के सीएम से लेकर पूरा सरकारी तंत्र पूजा में शामिल हुआ।

शिव मंदिर में पूजा अर्चना के बाद बिलावल भुट्टो ने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को पूरी आजादी है। पाकिस्तान ने कभी भी अल्पसंख्यकों के धार्मिक मान्यता पर हमला नहीं किया, हालांकि भुट्टो के इस बयान पर बहस हो सकती है।

बिलावल भुट्टो ने कहा कि पाकिस्तान की तरक्की में भाषायी और धार्मिक अल्पसंख्यकों का योगदान रहा है। पाकिस्तान के विभिन्न राजनीतिक दल और सरकारों की ये मान्यता रही है कि मुल्क का विकास अल्पसंख्यक समुदायों को साथ लिए बगैर नहीं हो सकता है।

Posted By:

  • Font Size
  • Close