वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर नकेल कसने के लिए एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। ट्विटर से तनातनी के दो दिन बाद ही ट्रंप ने यह कदम उठाया है। दरअसल, इससे पहले ट्रंप ने जो दो ट्वीट किए थे, उस पर ट्विटर ने फैक्ट चेक की चेतावनी लगा दी थी। अमेरिकी चुनाव में मत-पत्रों के बड़े पैमाने पर इस्तेमाल से धांधली की आशंका जताते हुए राष्ट्रपति ट्रंप ने दो ट्वीट किए थे।

ट्विटर ने इन ट्वीट्स को तथ्यात्मक रूप से गलत और भ्रामक बताते हुए उस पर फैक्ट चेक की चेतावनी लगा दी थी। इसके बाद तिलमिलाए ट्रंप ने एक्जीक्यूटिव ऑर्डर जारी कर दिया, ताकि सरकारी एजेंसियों को फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर नजर रखने के लिए ज्यादा शक्ति मिल सके।

ट्रंप ने ओवल ऑफिस में कहा कि यह कदम अमेरिकी इतिहास में बोलने की आजादी पर आए सबसे बड़े खतरे से बचाने के लिए उठाया गया है। ट्रंप ने माना कि इस आदेश को लेकर कुछ कानूनी चुनौतियां हैं। उन्होंने आशंका जताई कि सोशल मीडिया कंपनियां इस आदेश के खिलाफ कोर्ट में अपील कर सकती हैं। मगर, मुझे लगता है कि हम बहुत अच्छा करने जा रहे हैं।

यह आदेश अमेरिकी वाणिज्य विभाग के अंतर्गत काम करने वाली एक एजेंसी को निर्देशित करेगा कि वह धारा 230 के दायरे को स्पष्ट करने के लिए संघीय संचार आयोग (एफसीसी) के पास एक याचिका दायर करे। आदेश का एक अन्य भाग संघीय एजेंसियों को सोशल मीडिया विज्ञापन पर उनके खर्च की समीक्षा करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।

ट्रंप पहले ही इशारा कर चुके थे कि वह ट्विटर के खिलाफ कार्रवाई का मन बना रहे हैं। ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने कहा कि एक कंपनी के रूप में हमारे कार्यों के लिए अंत में कोई जवाबदेह है, तो वह मैं हूं। कृपया हमारे कर्मचारियों को छोड़ दें।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना