बिलासपुर। Bilaspur Child Line News: समर्पित संस्था के द्वारा महिला एवं बाल विकास विभाग भारत सरकार के सहयोग से संचालित परियोजना चाइल्ड लाइन की ओर से महारानी लक्ष्मीबाई स्कूल में अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान चाइल्ड लाइन के सदस्यों ने बालिकाओं के अधिकारों और उनके सामने आने वाली समस्याओं से कैसे निपटा जा सकता है। इस बारे में विस्तृत जानकारी दी।

चाइल्ड लाइन बिलासपुर 10 वर्षों से बाल सुरक्षा एवं संरक्षण पर कार्य कर रही है।अब तक कई बच्चों को आश्रय एवं संरक्षण दिलाने में सफल भी रही। इसके अलावा समय- समय पर कार्यक्रम आयोजित कर चाइल्ड लाइन किस तरह सहयोग करती है इस बारे में बताते हैं। इसी तारतम्य में महारानी लक्ष्मीबाई स्कूल में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान स्कूल मंे बच्चों को निश्शुल्क टोल फ्री नंबर 1098 के उद्देश्य के बारे में बताया। 18 वर्ष से कम उम्र के नाबालिग जो शोषित, पीड़ित, गुमशुदा, अनाथ या बेसहारा है। ऐसे बच्चों की देखरेख या संरक्षण की आवश्यकता है तो वह 1098 पर काल कर सूचित कर सकते हैं।

चाइल्ड लाइन के सदस्य तत्काल उनकी मदद करने के लिए मौके पर पहुंच जाएंगे। कार्यक्रम के दौरान बच्चों को गुड टच व बेड टच के बारे में बताया गया। साथ ही बच्चों को दो गज दूरी मास्क जरूरी, नियमित हाथ धोने एवं स्कूल प्रांगण में कोविड नियम का पालन करने की सलाह दी गई। कार्यक्रम के दौरान समर्पित संस्था के अध्यक्ष डा. संदीप शर्मा , परियोजना संचालक नाजनीन अली, केंद्र समन्वयक पुरषोत्तम पांडेय, तृप्ति दुबे, नंद कुमार पांडेय, धर्मेन्द्र कौशिक, प्रवीण मरकाम, पुष्पा बंजारे, ममता क्षत्रिय, स्कूल प्राचार्य कैरोलिन सत्तूर समेत अन्य शिक्षक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local