बिलासपुर। आबकारी इंस्पेक्टर ने अंबिकापुर-दुर्ग एक्सप्रेस में यात्रा के दौरान नशे में धुत तीन टीटी द्वारा मारपीट करने का आरोप लगाया है। बिलासपुर जीआरपी में की शिकायत में कहा गया है कि तीनों टीटी फर्जी रसीद काटकर अवैध वसूली कर रहे थे। इसी दौरान उनसे सोनी की चेन समेत डेढ़ लाख का माल लूट लिया।

जांजगीर-चांपा के पदस्थ आबकारी इंस्पेक्टर सलमान अंसारी ने बिलासपुर जीआरपी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। इसमें बताया है कि वे अपनी बहन के साथ 29 जून को अंबिकापुर-दुर्ग एक्सप्रेस से उसलापुर आ रहे थे। करंजी और सूरजपुर स्टेशन के बीच पहुंचे थे। इसी दौरान तीन टीटी आए और सलमान से टिकट मांगा। तीनों टीटी नशे में धुत थे। टिकट जांच करने के नाम पर सलमान से बहस करने लगे। फर्जी रसीद काटकर पैसे देने के लिए दबाव बनाने लगे। सलमान ने मना किया तो तीनों टीटी ने मारपीट शुरू कर दी।

शिकायत में बताया गया है कि टीटी ने सलमान की जेब से पर्स, सोने की चेन, मोबाइल लूट लिए। चेन की कीमत एक लाख 15 हजार स्र्पये बताई गई है। इस दौरान सलमान की बहन ने बीच-बचाव किया तो उनके साथ भी गाली-गलौज व मारपीट की गई। पीड़ित सलमान और उसकी बहन ने जीआरपी थाने के अलावा रेलवे स्टेशन मास्टर से भी मामले की शिकायत की है। पीड़ित सलमान ने बताया कि तीनों टीटी अन्य यात्रियों से भी अवैध वसूली कर रहे थे। डर के कारण कोई विरोध नहीं कर पा रहा था।

कार्यालय का घेराव करने दी चेतावनी

मारपीट की घटना के बाद से आजाद युवा संगठन के पदाधिकारियों ने कहा कि आरोपित टीटी के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है तो जीआरपी व जोन कार्यालय का घेराव किया जाएगा। किसी भी यात्री के साथ चलती ट्रेन में मारपीट करना गंभीर अपराध है। संगठन ने रेलवे प्रशासन से दोषियों के खिलाफ अपराध दर्ज करने की मांग की है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close