बिलासपुर। Child Line Helpline: चाइल्ड लाइन व जीआरपी ने जोनल स्टेशन में आयोजन कर यात्रियों को मानव तस्करी या किसी तरह से तस्करी दिखने या सूचना मिलने पर तत्काल हेल्पलाइन नंबर 1098 पर काल कर जानकारी देने की बात कही। इसके अलावा उन्हें चाइल्ड लाइन के बारे में विस्तार से बताया गया। मदद के लिए ही समर्पित रेलवे चाइल्ड लाइन 1098 सेवा संचालित है।

यात्रियों को बताया गया कि समिर्पित संस्था रेलवे चाइल्ड चाइल्ड लाइन राष्ट्रीय इमरजेंसी 24 घंटे चलने वाली निश्शुल्क फोन सेवा है। जहां बधाों की देखभाल एवं सुरक्षा की जानकारी दी जाती है। मानव तस्करी रोकना व भटके बच्चों की मदद करना मुख्य जवाबदारी है। टीम के सदस्य जिम्मेदारी का बेहतर निर्वहन करने का प्रयास भी करते हैं। पर जरुरी नहीं है कि इस तरह के मामलों में टीम के सदस्यों की नजर पड़ जाए।

इसके लिए यात्रियों को भी मदद करने की आवश्यकता है। इसी के तहत समय- समय पर आयोजन कर हेल्पलाइन नंबर और चाइल्ड लाइन के उद्देश्यों की जानकारी यात्रियों तक पहुंचाई जाती है। जीआरपी थाना प्रभारी जीआर राठिया ने यात्रियों को शारीरिक शोषण अथवा यौन शोषण के बारे में बताया। इसके साथ ही महिलाओं की सुरक्षा से जुड़ी अहम जानकारियां भी उपलब्ध कराई।

इसी तरह समर्पित संस्था के अध्यक्ष डा. संदीप शर्मा द्वारा बच्चों की सुरक्षा व उनकी देखभाल के बारे में बताया गया और यात्रियों से अपील की गई कि कोई भी समस्या आने पर 1098 में काल कर जानकारी उपलब्ध कराए। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में समर्पित रेलवे चाइल्ड लाइन के केंद्र समन्वयक नीलकमल भारद्वाज, काउंसलर अलका फाक के अलावा टीम के सदस्य संतोष श्रीवास्तव आदि शामिल रहे।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local