दुर्ग। मां की पिटाई से घायल होने के बाद अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती चार साल की मासूम बच्ची को चाइल्ड लाइन और सीडब्ल्यूसी के सदस्य गुरुवार को उसे देखने अस्पताल पहुंचे। अस्पताल मंें ही सीडब्ल्यूसी के सदस्य के सामने बच्ची को पेश किया गया। सदस्यों ने चिकित्सकों से बच्ची के स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली। स्वास्थ्य में और सुधार आने की सूरत में सीडब्ल्यूसी के सदस्य शुक्रवार को बच्ची का बयान दर्ज कर सकते हैं।

उल्लेखनीय है कि ग्राम भेड़सर निवासी चार साल की बच्ची की उसकी मां ने पिटाई कर दी थी और लकड़ी के अंगारे से उसके पांव की तली को आंक दिया था। मां का कहना था कि बच्ची उसका बात नहीं मानती नहीं है। पिटाई की इस घटना में बच्ची के पीठ व शरीर के अन्य स्थानों में चोट आई है। वहीं पांव की तली में फफोले पड़ गए हैं। बुधवार को हुई इस घटना की जानकारी मिलते ही चाइल्ड लाइन दुर्ग के टीम लीडर भारती चौबे सहित अन्य सदस्य तत्काल मौके पर पहुंचे और बच्ची को रेसक्यू कर दुर्ग ले आए थे। बच्ची का इलाज जिला अस्पताल दुर्ग में चल रहा है। चाइल्ड लाइन की टीम लीडर भारती चौबे ने बताया कि गुरुवार को बच्ची को देखने उनके साथ सीडब्ल्यूसी की सदस्य श्रद्धा रानी साहू भी अस्पताल पहुंची थी। अस्पताल में ही बच्ची को सीडब्ल्यूसी के सदस्य के समक्ष पेश किया गया। उन्होंने बताया कि बच्ची के स्वास्थ्य के संबंध में सीएमएचओ डा.गंभीर सिंह ठाकुर से जानकारी ली गई। बच्ची के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

दादी भी पहुंची अस्पताल

भारती चौबे ने बताया कि बच्ची की माता-पिता अब तक उसे देखने नहीं आए हैंं। लेकिन गुरुवार को बच्ची की दादी अस्पताल आई थी। दादी से हुई पूछताछ का हवाला देते हुए भारती चौबे ने बताया कि बच्ची की मां पहले भी कई बार उससे मारपीट कर चुकी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local