दुर्ग। चार साल की मासूम बच्ची की उसकी मां ने पिटाई कर दी। बच्ची के चेहरे और पीठ पर चोंट के गंभीर निशान हैं। इतना ही नहीं किसी गरम वस्तु से उसकी पांव की तली को आंक दिया। इससे तली में फफोले पड़ गए हैं।

यह वीभत्स घटना जिला मुख्यालय से करीब 11 किमी दूर ग्राम भेड़सर की है। सूचना पर चाइल्ड लाइन दुर्ग की टीम गांव पहुंची और बच्ची को अपने साथ लेकर आई। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

चाइल्ड लाइन ने घटना की जानकारी सीडब्ल्यूडी को दे दी है। पुलगांव थाने में इसकी शिकायत भी दर्ज कराई जाएगी।

चाइल्ड लाइन दुर्ग की टीम लीडर भारती चौबे ने बताया कि चाइल्ड लाइन के टोल फ्री नंबर 1098 पर बुधवार सुबह करीब 11 बजे किसी का फोन आया।

फोन करने वाले ने उक्त घटना के संबंध में बताया। सूचना मिलते ही चाइल्ड लाइन की टीम लीडर भारती,बजरंग सिंह और ललिता तत्काल घटना स्थल के लिए रवाना हुई। टीम के सदस्य करीब 12 बजे ग्राम भेड़सर स्थित घटना स्थल पहुंचे। टीम लीडर ने बताया कि जब वे पहुंचे तब चार साल की बच्ची ट्रैक्टर ट्राली के पीछे डरी-सहमी छुपकर बैठी हुई थी।

टीम के सदस्यों ने बच्ची को वहां से बाहर निकाला और उसके शरीर पर चोंट के निशान देखकर व्यथित हो गए। बच्ची दर्द से कराह रही थी और कुछ बोल बता नहीं पा रही थी। टीम के सदस्यों ने मौके पर मौजूद बच्ची की मां राजकुमारी से पूछा कि मासूम के साथ इतनी बेहरमी से मारपीट क्यों की है।

इस पर मां ने कहा कि वह मेरी बात नहीं मानती है इस कारण से गुस्सा आ गया। तब तक घटना स्थल पर गांव वालों की भीड़ भी जमा हो गई। ग्रामीणों ने भी इस वीभत्स घटना को लेकर बच्ची की मां को डांटा। इसके बाद टीम के सदस्य बच्ची को अपने साथ लेकर दुर्ग आ गए।

भारती ने बताया कि बच्ची दर्द की वजह से बोल बता नहीं पा रही है। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पिता ने फोन कर धमकाया

टीम लीडर भारती चौबे ने बताया कि बच्ची को दुर्ग लाने के कुछ घंटे बाद उसके पिता का फोन आया था। वह फोन पर धमका रहा था कि उससे पूछे बगैर बच्ची को कैसे लेकर आ गए। भारती ने यह भी बताया कि बच्ची के साथ उसकी मां पहले भी तीन-चार बार मारपीट कर चुकी है। बच्ची का वजन भी काफी कम है वह छह किलो की है। वह तीन भाई बहन में दूसरे नंबर की है।

--

सीडब्ल्यूसी को दी जानकारी

बच्ची को दुर्ग लाने और उसके साथ हुई घटना के संबंध में सीडब्ल्यूसी के सदस्यों को जानकारी दी है। पूरे घटनाक्रम की शिकायत पुलगांव पुलिस से भी की जाएगी। फिलहाल बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

-भारती चौबे, टीम लीडर चाइल्ड लाइन दुर्ग

---

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags