छोटेकापसी। बस्तर संभाग के साथ कांकेर जिले में हो रही लगातार वर्षा से कांकेर जिले में स्थित परलकोट जलाशय इस साल लबालब भर कर अपने पूरे सवाब पर है। यहां जलाशय कांकेर जिले का सबसे बड़ा जलाशय है जो परलकोट क्षेत्र के ग्राम खैरकट्टा के एरिया में है। जो तीन साल बाद एक बार फिर पूरी तरह (लबालब) भर गया है। जलाशय में लगभग 40 फीट की ऊंचाई से जब स्पील-वे से पानी बह कर गिरता है तो नजारा किसी जलप्रपात के जैसा हो जाता है। और मनोरम नजारा देखने बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं। ऐसे में तो पूरे सालभर परलकोट जलाशय देखने लोग पहुंचते है लेकिन वर्षा के दौरान जलाशय में जलभराव इतना अधिक हो जाता है कि सेंट्रल स्पील-वे से पानी गिरने लगता है तब उस नजारे को देखने केलिए मेले जैसी भीड़ लगती है।

रक्षाबंधन के दिन उमड़ी भीड़, सुरक्षा के इंतजाम नही

रक्षाबंधन के पावन त्योहार के दिन परलकोट जलाशय उपर से गिरन शुरू होते ही जलाशय का मनोरम दृश्य देखने यहां भारी भीड़ उम़़ड़ जाती है। भीड़ में पहुंचने वाले युवा यहां अपनी जान को जोखिम में डालकर सेल्फी लेते नजर आ रहे हैं और अपने हीरोगिरी दिखाने के चक्कर मे जलाशय में उतरकर ओवर फ्लो के ऊपर से डैम में कूदकर नहाते है जो बेहद खतरनाक होता है। इन्हें रोकने-टोकने वाला यहां कोई नहीं दिखाई देते।

हालांकि समय-समय पर पुलिस और जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के द्वारा जाकर समझाइस देते है, पर जैसे ही पुलिस समझाइस देकर वापस लौटती है हालत जैसे के तैसे हो जाते है। जलाशय घूमने आए पर्यटकों ने कहा कि शासन प्रशासन के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था के रूप में एरिया बना देना चाहिए ताकि लोग शांतिपूर्ण ढंग से मनोरम दृश्य का सकुशल आनंद ले सके। आपको बता दे कि वर्ष 2013 में ऊपर से कूदकर नहाते समय कापसी के एक युवा की जान चली गई थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close