रायपुर। नवा रायपुर से धमतरी के बीच छोटी रेल लाइन पर बड़ी पटरी बिछाने का काम तेजी चल रहा है।रेलवे मंडल के अनुसार मार्च 2023 तक ट्रैक तैयार करने का काम पूरा कर लिया जाएगा।अभनुपर में रेलवे स्टेशन बनकर तैयार है,जबकि कुरुद व धमतरी तेजी से काम चल रहा है। अधिकारियों के मुताबिक नवा रायपुर से केंद्री स्टेशन और वहां से अभनपुर के बीच पटरी बिछाने का पूरा फाउंडेशन तैयार किया जा चुका है।अभनपुर के पहले तक नई फोरलेन सड़क पर रेलवे ओवरब्रिज तक बना लिया गया है।धमतरी तक उसी रुट पर रेल लाइन बिछाई जा रही है,जहां से छोटी लाइन गुजरती थी।धमतरी से जगदलपुर के बीच रेल मार्ग नहीं है,इसलिए नया रुट मैप तैयार किया गया है।उस रुट पर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया अंतिम चरण में है।पटरी बिछने से जगदलपुर सीधे नवा रायपुर से जुड़ जाएगा।

नया रेल नेटवर्क,चार शहर जुड़ेगे

चार शहरों को जोड़ने के लिए नया रेल नेटवर्क तैयार किया गया है।अभी नवा रायपुर से धमतरी तक रेल पटरी बिछाने का काम चल रहा है। इसके पूरा होते ही नवा व पुराना रायपुर के अलावा भिलाई-दुर्ग भी आपस में रेल लाइन से जुड़ जाएंगे।

25 लाख आबादी को मिलेगा फायदा

धमतरी से नवा रायपुर के केंद्री और अभनपुर तक बड़ी लाइन बनने से करीब 25 लाख की आबादी को बड़ा फायदा मिलेगा।वहीं ट्रेन का परिचालन शुरू होने से रायपुर से जगदलपुर सड़क मार्ग पर यातायात का दबाव भी कम हो जाएगा।धमतरी से रायपुर आने वाले यात्रियों को वर्तमान में 120 रुपए तक बस का किराया लगता है।वहीं बस से रायपुर ढ़ाई घंटे का समय लग जाता है।ट्रेन के शुरू होने से यात्रियों को कम किराये के साथ ही समय की बचत होगी।

अभनपुर,कुरूद और धमतरी में तीन बड़े स्टेशन

रायपुर-धमतरी के बीच फिलहाल तीन बड़े स्टेशन अभनपुर, कुरूद और धमतरी रहेंगे। इनके अलावा चटौद, सिर्री, सारसापुरी और सांकरा गांव को पैसेंजर हाल्ट बनाया जाएगा।इस रुट की ट्रेन कुछ देर के लिए यहां स्टापेज लेगी। यह पूरा रुट नवा रायपुर के केंद्री रेलवे स्टेशन से जुड़ेगा।रेलवे मंडल ने रायपुर-धमतरी के बीच रेल लाइन प्रोजेक्ट को मार्च 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य तय किया है।गौरतलब है कि बड़ी रेल लाइन का शिलान्यास चार साल पहले छह अक्टूबर 2018 को रेल मंत्री पीयूष गोयल और तत्कालीन मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने किया था।

120 की रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन

रायपुर रेल मंडल के अधिकारियों ने बताया कि नवा रायपुर से धमतरी के ट्रेन 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी।इससे धमतरी से नवा रायपुर के बीच के लोगों की कनेक्विटी बढ़ने का फायदा क्षेत्र के किसान,व्यापारियों को मिलेगा।वे सब्जियों को अनाज को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ला और ले जा सकेंगे।

रायपुर रेल मंडल के अधिकारियों ने बताया कि वर्ष 2007 में केंद्र सरकार ने रायपुर-जगदलपुर के बीच रेल यातायात शुरू करने की घोषणा की थी, लेकिन जमीन अधिग्रहण समेत अन्य पेच के कारण मामला 15 साल तक लटका रहा। तीन साल पहले छोटी रेल लाइन के रुट पर बड़ी पटरी बिछाने का काम तेलीबांधा से शुरू किया गया। नवा रायपुर से केंद्री स्टेशन और वहां से अभनपुर के बीच पटरी बिछाने का पूरा होने के साथ ही अभनपुर के पहले तक नई फोरलेन सड़क पर रेलवे ओवरब्रिज बनाया जा चुका है। कुरुद में अभी तेजी से काम चालू है। रेलवे अफसरों के अनुसार धमतरी तक उसी रुट पर रेल लाइन बिछाई जा रही है, जहां से छोटी लाइन गुजरती थी।धमतरी से जगदलपुर के बीच रेल मार्ग नहीं है, इसलिए नया रुट मैप तैयार किया गया है। उस रुट पर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया अंतिम चरण में पहुंच गई है। पटरी बिछने से जगदलपुर सीधे नवा रायपुर से जुड़ जाएगा।

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close