Balika Vadhu fame Surekha Sikri: गुजरे जमाने की अभिनेत्री और हाल के दिनों में टीवी सीरियल बालिका वधू और बॉलीवुड फिल्म 'बधाई हो' में अपने अभिनय के कारण चर्चा में रहीं सुरेखा सीकरी का निधन हो गया है। 75 साल की उम्र में हार्ट अटैक के कारण उनका निधन हुआ। Surekha Sikri ने तीन राष्ट्रीय पुरस्कार और फिल्मफेयर अवॉर्ड जीते हैं। 'बालिका वधू' में Surekha Sikri ने एक कड़क दादी सास (कल्याणी देवी) का किरदार निभाया था, जो खासा लोकप्रिय हुआ था। Surekha Sikri का जन्म 19 अप्रैल 1945 को दिल्ली में हुआ था। उन्होंने छोटे पर्दे से करियर की शुरुआत की थी।1978 में पॉलिटकल ड्रामा फिल्म 'किस्सा कुर्सा का' से उन्‍होंने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा था।

दुखद समाचार की पुष्टि करते हुए उनके मैनेजर ने बताया, 3 बार की राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का शुक्रवार सुबह 75 वर्ष की आयु में हृदय गति रुकने से निधन हो गया। वह मस्तिष्क आघात से जुड़ीं अन्य समस्याओं से पीड़ित थीं। पूरा परिवार उनकी देखभाल कर रहा था। परिवार इस समय प्राइवेसी चाहता है। ओम साई राम।

Surekha Sikri ने थिएटर, फिल्मों और टेलीविजन में काम किया है। उन्हें तमस (1988), मम्मो (1995) और बधाई हो (2018) सहित तीन बार सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला। टीवी धारावाहिक बालिका वधू में एक कठोर दादी सास कल्याणी देवी की भूमिका के साथ उनको बहुत लोकप्रियता मिली। वह 2008 की शुरुआत से 2016 के अंत तक शो का हिस्सा थीं। 2018 के 'बधाई हो' में एक दादी और सास के रूप में उनके अभिनय को भी काफी सराहा गया, जिसके लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला। तब Surekha Sikri अपना पुरस्कार लेने व्हीलचेयर पर पहुंची थीं। बीते दिनों जब कोरोना के कारण सीनियर कलाकारों के काम पर पाबंदी लग गई तब भी Surekha Sikri ने अपनी नाराजगी जताई थी।

Posted By: Arvind Dubey