भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कृषि कानून में संशोधन की मांग को लेकर पंजाब, हरियाणा, दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। इसके चलते अनेक संगठनों द्वारा आठ दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया गया है, लेकिन भोपाल में इस प्रस्‍तावित बंद को लेकर कोई हलचल या समर्थन नहीं है। भोपाल के कारोबारियों का कहना है कि किसानों की मांगों का समर्थन है, लेकिन मंडियां और बाजार खुले रखेंगे। मंगलवार को भी सामान्य दिनों की तरह की खरीद-बिक्री का सिलसिला जारी रहेगा।

भोपाल किराना व्यापारी महासंघ के महासचिव अनुपम अग्रवाल का कहना है कि बंद को लेकर अभी तक उनसे किसी भी संगठन ने संपर्क नहीं किया है। महासंघ के नियमानुसार 72 घंटे पहले यदि बंद को लेकर कोई आवेदन आता है तो कार्यसमिति उस पर निर्णय लेती है, पर ऐसा कुछ नहीं हुआ है। इसलिए मंगलवार को भी जुमेराती, जनकपुरी व हनुमानगंज के थोक किराना बाजार खुले रहेंगे। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रांतीय महामंत्री नवनीत अग्रवाल ने बताया कि किसानों की मांगों का समर्थन है, लेकिन ग्राहकों की सुविधाओं का भी ध्यान रखना है। वर्तमान में शादी-ब्याह की खरीदारी में लोग व्यस्त हैं। इसलिए मंगलवार को बाजार खुले रखे जाएंगे। अनाज व्यापारी महासंघ के प्रवक्ता संजीवकुमार जैन ने बताया कि किसानों की मांगें जायज हैं और उनका समर्थन भी है, किंतु मंडी बंद नहीं रखी जाएगी। मंगलवार को आम दिनों की तरह ही मंडी भी खुली रहेगी और अनाज की खरीद-बिक्री की जाएगी।

किसी संगठन ने नहीं किया संपर्क

बंद को लेकर किसानों के किसी भी संगठन ने कारोबारियों से संपर्क नहीं किया है, न ही चर्चा को लेकर कोई आगे आया है। इसलिए मंगलवार को बाजार और मंडियां खुली रखी जाएंगी। राजधानी की थोक करोंद सब्जी मंडी के साथ अनाज मंडी भी खुली रहेगी।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close