ग्वालियर.नईदुनिया प्रतिनिधि। विदिशा में रहने वाला पन्द्रह वर्षीय नाबालिग मौका पाकर दादा-दादी को बिना बताए ग्वालियर में काम की तलाश में बीती रात ग्वालियर आ पहुंचा। रात में यह नाबालिग आरपीएफ स्क्वाड को गश्त के दौरान प्लेटफार्म नंबर एक के बाहर रोता मिला। नाबालिग से पूछताछ करने के बाद नाबालिग के परिजनों को सूचना देने के बाद उसे चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया।

आरपीएफ से मिली जानकारी के अनुसार गंजबसौदा जिला विदिशा में रहने वाले पन्द्रह वर्षीय नाबालिग के पिता का देहांत हो चुका है। नाबालिग अपने दादा-दादी के साथ रहता है। आर्थिक तंगी के चलते वह काम की तलाश में घर वालों को बिना बताए विदिशा से ट्रेन में सवार होकर बीती रात ग्वालियर आ पहुंचा। बीती रात जब आरपीएफ स्क्वाड प्लेटफार्म नंबर एक के बाहर सर्कुलेटिंग एरिया में गश्त कर रहा था, गश्त के दौरान जैसे ही इस नाबालिग पर स्क्वाड की नजर पड़ी तो वह जवानों को देखकर रोने लगा और पूछताछ में उसने घर से भागकर काम की तलाश में ग्वालियर आना बताया। परिजनों को नाबालिग के ग्वालियर में होने की सूचना देने के बाद उसे देर रात चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया।

हॉस्टल से पढ़ने निकला छात्र लापता, मामला दर्ज

हॉस्टल से पढ़ने निकला 14 वर्षीय छात्र लापता हो गया। घटना गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के कॉल्पी ब्रिज कॉलोनी की है। घटना का पता चलते ही हॉस्टल प्रबंधन थाने पहुंचा और मामले की शिकायत की। गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के विवेक नगर निवासी नेताजी सुभाष चंद्र बोस हॉस्टल कॉल्पी ब्रिज में सहायक वार्डन है। बीते रोज उनके हॉस्टल से एक छात्र पढ़ने के लिए गया था और ना तो वह स्कूल पहुंचा और ना ही वापस लौटकर आया। मामले का पता चलते ही अपने स्तर पर उसकी तलाश की. लेकिन पता नहीं चला। छात्र का पता नहीं चलने पर वह थाने पहुंचे और शिकायत की

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close