जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा समाज में उत्पन्न विवादों को उसी समाज के प्रशिक्षित मध्यस्थों द्वारा निपटाने के लिए लगातार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसी के तहत जिले के ब्राह्मण समुदाय को 12 दिवसीय 20 घंटों का आनलाइन सामुदायिक मीडिएशन प्रशिक्षण 16 मार्च से 27 मार्च तक दिया गया।

प्रशिक्षण कार्यक्रम कार्यपालक अध्यक्ष मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के आदेशानुसार व मार्गदर्शन में आयोजित किया गया। प्रशिक्षण मीडिएटर गिरिबाला सिंह, सदस्य सचिव, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण तथा राजीव कर्महे, सचिव, उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति द्वारा दिया गया। विशेष रिसोर्स पर्सन के रूप में नीना खरे, शाहिद मोहंमद, पोटेंशियल ट्रेनर एवं डॉ ओपी रायचंदानी, मनोचिकित्सक, मेडिकल कालेज जबलपुर द्वारा महत्वपूर्ण योगदान दिया गया। कार्यक्रम के दौरान इंटर्नशिप कर रहे विधि विद्यार्थियों को मीडिएशन की बेसिक ओरिएंटेशन स्किल्स दी गई, जो एक महत्वपूर्ण विवाद समाधान प्रक्रिया है।

प्रतिभागियों द्वारा अपने स्तर पर सामुदायिक मध्यस्थता केंद्र खोलकर मध्यस्थता योग्य सामुदायिक मामलों का प्रारंभिक स्तर पर ही समाधान कर समाज में बढ़ते विवादों की संख्या कम किये जाने का प्रयास किया जायेगा। कार्यक्रम का समापन सत्र राष्ट्रगान के साथ संपन्ना् हुआ। इसके पूर्व मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नेमा, गोंड, जैन, कायस्थ, यादव, कतिया, पासी, मुस्लिम, मीना, क्षत्रिय तथा बंगाली समाज के सदस्यों को सामुदायिक मध्यस्थता हेतु प्रशिक्षित कर चुका है।

Posted By: Ravindra Suhane

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags