ब्यावरा (नवदुनिया न्यूज)। चाइल्ड लाइन से दोस्ती सप्ताह 14 नवंबर बाल दिवस से लेकर 20 नवंबर अंतरराष्ट्रीय बाल दिवस तक मनाया जा रहा है जिसमें चाइल्डलाइन टीम द्वारा बच्चो के सर्वोत्तम हित को लेकर अलग अलग गतिविधियां आयोजित की जा रही है। इसी दौरान शुक्रवार को राजगढ़ अहिंसा चाइल्डलाइन द्वारा ब्यावरा शहर में गतिविधि आयोजित की गई। जिसमें सर्वप्रथम रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 के संबंध में समझाया गया एवं वहीं पर लाउडस्पीकर के माध्यम से यात्रियों को भी 1098 एवं चाइल्डलाइन की गतिविधियों की जानकारी दी गयी। इसी दौरान रेलवे स्टेशन पर जीआरपी पुलिस के साथ मीटिंग आयोजित की गई। जीआरपी थाना प्रभारी श्री दांगी द्वारा बताया कि रेलवे स्टेशन पर लगातार हमारे द्वारा भी बच्चों के संबंध में जागरूकता की जा रही है और चाइल्ड लाइन के साथ मिलकर जागरूकता को और बेहतर किया जा रहा है। इसी तारतम्य में ब्यावरा सिटी पुलिस थाने पर बालमित्र थाने का अनुविभागीय पुलिस अधिकारी किरण अहिरवार एवं थाना प्रभारी के नेतृत्व में उद्घाटन किया गया। उद्घाटन के दौरान चाइल्डलाइन द्वारा अपने कार्य साझा किए एवं ब्यावरा शहर में बच्चे के मुद्दे को लेकर चर्चा की गई। चर्चा के दौरान एसडीओपी किरण अहिरवार द्वारा बताया कि ब्यावरा शहर में बालिका स्कूल एवं बालक स्कूल में जागरूकता कार्यक्रम लगातार चाइल्ड लाइन के सहयोग से किया जाना है एवं ब्यावरा शहर में भिक्षावृत्ति, बाल श्रम, एवं घरेलू हिंसा मैं बच्चे का शोषण जैसे मामले सामने आ रहे हैं। इसको लेकर पुलिस एवं चाइल्डलाइन टीम जागरूकता कार्यक्रम लगातार करेगी। थाना प्रभारी राजपाल सिंह राठौड़ द्वारा बताया कि आगामी सप्ताह में चाइल्डलाइन राजगढ़ एवं ब्यावरा पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर ब्यावर शहर में जागरूकता कार्यक्रम करना है एवं कन्या शाला के साथ ही अन्य स्कूलों में भी बच्चों को सुरक्षा एवं सुरक्षित स्पर्श व असुरक्षित स्पर्श को लेकर जागरूक करना है। श्रीमति अहिरवार द्वारा बताया कि संयुक्त टीम बनाकर ना सिर्फ बालिका को बल्कि लड़कों को भी पोक्सो कानून के संबंध में समझाइश देना है। जिसमें पुलिस चाइल्डलाइन टीम की पूर्ण रूप से मदद करगी। इसके साथ चाइल्ड लाइन टीम द्वारा बताया कि ब्यावरा शहर में कोई भी बच्चा अकेला गुमशुदा या फिर लावारिस अवस्था में या फिर असंरक्षित अवस्था में दिखाई दे तो चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर अवश्य बताएं। थाना प्रभारी द्वारा बताया कि बालमित्र थाने में लगातार पुलिस के सहयोग से चाइल्डलाइन टीम जागरूकता कार्यक्रम करेगी एवं बच्चों को बाल मित्र थाना भ्रमण कराएगी जिससे कि बच्चे और पुलिस के बीच एक बालमित्र दोस्ताना व्यवहार बने जिससे कि बच्चे अपनी बात बेझिझक बता सके। कार्यक्रम में चाइल्ड लाइन परियोजना समन्वयक मनीष दांगी टीम सदस्य रजनी प्रजापति, नरेंद्र व्यास, शानू जाटव, निकिता मेवाड़ा के साथ ही अन्य पुलिस स्टाफ मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local