शाजापुर। राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सुरेन्द्र कुमार श्रीवास्तव शाजापुर के मार्गदर्शन में समस्त न्यायाधीशगण, अभिभाषकगण की संयुक्त उपस्थिति में न्यायालय परिसर में पौधा रोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव एवं अपर जिला जज राजेन्द्र देवड़ा ने राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के अवसर पर पौधा रोपण करते हुए कहा कि पर्यावरण के लिए वृक्षों का संरक्षण व संवर्धन की आवश्यकता है। उन्होंने कहा है कि समाज का प्रत्येक व्यक्ति संवेदनशील व सजग होकर पर्यावरण संरक्षण के लिए अपने दायित्वों का निर्वहन करें। समाज निर्माण तथा पर्यावरण प्रदूषण मुक्त भारत के निर्माण में प्रत्येक व्यक्ति अपना अमूल्य योगदान दे उन्होंने आगे कहा कि पर्यावरण संरक्षण समय की प्रबल आवश्यकता है इसलिए प्रत्येक व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी समझे और पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाने के साथ ही साथ लोगों को इस विषय में जागरूक करें और अधिक से अधिक वृक्षारोपण करके प्रदूषण मुक्त भारत के निर्माण में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करें।

उन्होंने आगे बताया कि अधिकारी व कर्मचारी अपने दायित्वों का निर्वहन तो करें ही, साथ साथ में समाज के निर्माण में भी अपना योगदान दें। इस अवसर पर उन्होंने जिला न्यायालय, शाजापुर परिसर में वृक्षारोपण किया और अधिक से अधिक संख्या में पौधों को लगाए जाने की आवश्यकता पर बल दिया। इसके साथ ही प्रत्येक नागरिक से अपील करते हुए कहा कि पर्यावरण को स्वच्छ एवं समृद्ध बनाए रखना सभी का कर्तव्य है इसलिए सभी को राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के अवसर पर एक-एक पौधा अवश्य लगाकर पर्यावरण को समृद्ध बनाए रखने में अपना योगदान देना चाहिए।

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस के इस अवसर पर आयोजित पौधा रोपण कार्यक्रम में न्यायालय के कर्मचारीगण, विधिक सेवा प्राधिकरण, शाजापुर के न्यायाधीशतथा अधिवक्तागण, चाइल्ड लाइन की टीम एवं विभिन्ना अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close