शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

रेलगाड़ियों में यात्रा के दौरान जरुरतमंद बच्चों की पहचानकर उन्हें संरक्षित करने तथा रेलवे के माहौल को चाइल्ड फ्रेंडली बनाने के लिए गठित रेलवे चाइल्ड प्रोटेक्शन कमेटी की त्रैमासिक बैठक का स्टेशन परिसर में आयोजन किया गया। बैठक में स्टेशन पर परिसर को चाइल्ड फ्रेंडली बनाने के लिए बच्चों से संबंधित कानूनी प्रावधानों एवं योजनाओं के फ्लैक्स लगाने एवं स्टेशन के बाहर पार्क को बाल अनुकूल बनाने के संबंध में निर्णय लिया गया। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि बगैर गर्म कपड़ों के यात्रा करने वाले गरीब बच्चों को उपलब्ध कराने के लिए लोगों से पुराने कपड़े इकट्ठा करके रखे जाएं। ताकि कोई बच्चा सर्दी से ठिठुरते दिखाई दे तो उसे कपड़े दिए जा सकें। चाइल्ड लाइन टीम के द्वारा लोगों से पुराने कपड़े एकत्रित करने की जिम्मेदारी ली। जो भी लोग बच्चों या बड़ों के पुराने उपयोगी कपड़े जरूरतमंद लोगों के लिए दान करना चाहते है,वो चाइल्ड लाइन सिटी कॉर्डिनेटर सौरभ भार्गव से 7000415619 या सेंटर कॉर्डिनेटर अरुण सेन से मोबाइल नंबर 7389309840 पर संपर्क कर सकते है।

नवाचार के लिए बधाई दी

बाल संरक्षण अधिकारी राघवेंद्र शर्मा ने बताया कि स्टेशन पर बच्चों को मुसीबतों में जाने से बचाने के लिए चाइल्ड लाइन नंबर 1098 पर सूचना देने संबंधी एनाउंसमेंट की जो शुरुआत हुई है,उस नवाचार को काफी सराहना मिल रही है। मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता ने रेल मंत्री को पत्र लिखकर इसे राष्ट्र व्यापी बनाने की मांग की है,वहीं कई जिले इसकी शुरुआत करने के लिए स्थानीय स्तर पर भी प्रयासरत है। इसके लिए स्थानीय रेल प्रबंधन एवं पूरा स्टाफ को बधाई का पात्र है। बैठक में स्टेशन प्रबंधक आरएस मीना,बाल कल्याण समिति सदस्य रघुवीर श्रीवास, बाल संरक्षण अधिकारी राघवेंद्र शर्मा, आरपीएफ थाना प्रभारी जेबी सिंह, आरपीएफ एएसआइ हीरा सिंह यादव, मंडल वाणिज्य निरीक्षक राजेश लड़वाल, सीटीआइ एसवी श्रीवास्तव, जीआरपी एएसआइ लाखन सिंह रघुवंशी, प्रआ विवेक कौशल, जसवंत सिंह यादव,ऊदल सिंह, एसजेपीयू से प्रआ हर्ष झा, चाइल्ड लाइन सिटी कॉर्डिनेटर सौरभ भार्गव, सेंटर कॉर्डिनेटर अरुण सेन, टीम सदस्य हिम्मत रावत, विनोद परिहार, समीर खान, सुल्तान आदिवासी आदि मौजूद रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local