विदिशा(नवदुनिया प्रतिनिधि)। बेतवा नदी में पिछले कुछ दिनों से बड़ी संख्या में मछलियों के मरने का सिलसिला जारी है। बेतवा फिल्टर प्लांट से लेकर महलघाट, बड़ वाला घाट, चरणतीर्थ घाट तक छोटी बड़ी मछलियां मरी हुईं पानी में अतरा रही हैं। बेतवा से जुड़े समाजसेवी और पर्यावरण चिंतक लगातार मछलियों के फोटो इंटरनेट मीडिया पर डाल रहे हैं। ऐसे में नगर पालिका को भी इसकी शिकायत पहुंची है। गुरुवार को सीएमओ सीपी राय ने वाटर वर्क्स रोड स्थित फिल्टर प्लांट का निरीक्षण किया। इसी फिल्टर प्लांट से पूरे शहर में पेयजल सप्लाई किया जाता है। यहां भी प्रदूषण के कारण मछलियों के मरने की खबर मिली थी। सीएमओ सीपी राय ने बताया कि फिल्टर प्लांट का निरीक्षण करने पर वहां ऐसी स्थिति नहीं मिली। वहां पर मछलियां मरी नहीं मिली अन्य घाटों पर मछलियों के मरने की जानकारी मिली है। हम पता करवा रहे हैं कि मछलियों के मरने का क्या कारण है। जांच शुरू करवाई है। इधर समाजसेवी प्रमोद व्यास ने महलघाट पर नदी में मरी हुई मछलियों के फोटो डालते हुए इस पर गहरी चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि बेतवा में बढ़ रहे प्रदूषण के कारण आज ये स्थिति हो रही है। वहीं पर्यावरण मित्र नीरज चौरसिया का कहना है कि प्रशासन बेतवा के प्रदूषण को रोकने पर कोई कदम नहीं उठा रहा है, इसलिए आज ऐसी स्थिति देखने को मिल रही है। मुक्तिधाम सेवा समिति के सचिव मनोज पांडे और चरणतीर्थ मंदिर के पुजारी पं सजय पुरोहित ने भी वर्षा के इस मौसम में मछलियों के मरने पर चिंता जताई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close