High Cholesterol Sign । हमारे शरीर में जब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है तो रक्त गाढ़ा हो जाता है और इस कारण से कई शारीरिक समस्याएं होने लगती है। शरीर में यदि Cholesterol लेवल बढ़ता है तो शरीर कई तरह के संकेत देने लगता है और इन लक्षणों को समझकर समय पर इलाज शुरू किया जा सकता है। आइए जानते हैं क्या होता है Cholesterol और शरीर के लिए यह क्यों नुकसानदायक होता है -

जानें क्या होता है Cholesterol

कोलेस्ट्रॉल एक मोम जैसा पदार्थ होता है जो बहुत ज्यादा वसा युक्त डाइट लेने और व्यायाम न करने से हमारे खून में बढ़ने लगता है। Cholesterol के लेवल अधिक वजन होने, धूम्रपान और शराब पीने के कारण भी बढ़ता है। वहीं कुछ मामलों में यह जेनेटिक कारणों से भी बढ़ता है।

Cholesterol बढ़ने से खतरा

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से शरीर में खून गाढ़ा हो जाता है और हमारी रक्त धमनियों में ब्लॉकेज का भी खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में अचानक कार्डियक अरेस्ट आने या किडनी में भी समस्या आने की आशंका रहती है। उच्च कोलेस्ट्रॉल घातक साबित हो सकता है और इसमें अचानक मृत्यु होने का खतरा भी बना रहता है।

हाई कोलेस्ट्रॉल के इन संकेतों को जरूर समझें

- व्यक्ति के शरीर में कोलेस्ट्रॉल ज्यादा होने पर आंखों में परेशानी होने लगती है। आंखों के कोने के आसपास पीले और नारंगी रंग की मोमी परत जमने लगती है। यह त्वचा के नीचे कोलेस्ट्रॉल जमा होने के कारण होता है।

​पैरों और हथेलियों की त्वचा में असर

Cholesterol बढ़ने पर पैरों की निचली और हथेलियों के पीछे की त्वचा पर पीले रंग की मोमी परत जमने लगती है। अपने कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है।

सोरायसिस का खतरा

सोरायसिस और उच्च कोलेस्ट्रॉल का भी आपस में संबंध होता है। इसे हाइपरलिपिडिमिया के रूप में जाना जाता है। हाइपरलिपिडिमिया का इलाज किया जा सकता है। Cholesterol को नियंत्रित रखने के लिए संतुलित जीवन शैली अपनानी चाहिए।

व्यायाम जरूर करें

Cholesterol बढ़ने के स्थिति में रोज कम से कम 40 मिनट की कार्डियो एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए। कार्डियो एक्सरसाइज में आप रस्सी कूदना, स्विमिंग करना, ब्रिस्क वॉक, साइकिल चलाना आदि में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं। इसके अलावा ज्यादा वसायुक्त भोजन से परहेज करना चाहिए और प्रोटीन व फाइबर डाइट का सेवन ज्यादा करना चाहिए।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close