Dev Diwali 2022: हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा पर देव दीपावली का पावन पर्व मनाया जाता है। इस साल यह पर्व 7 नवंबर को मनाया जाने वाला है। देव दीपावली के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दिन देवी-देवता गंगा में स्नान करने के लिए पृथ्वी पर उतर कर आते हैं। साथ ही श्री विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं। इसी कारण देव दीपावली पर देवी-देवताओं के स्वागत के लिए वाराणसी के घाटों पर लाखों की संख्या में दीप जलाए जाते हैं। देव दीपावली पर कुछ नियमों का पालन करने से मां लक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

देव दीपावली पर क्या करें?

- देव दीपावली पर गंगा स्नान का काफी धार्मिक महत्व है। माना जाता है कि देव दीपावली के दिन गंगा स्नान करने पर व्यक्ति के जीवन के सभी दोष दूर हो जाते हैं। साथ ही उसे पुण्य फल की प्राप्ति होती है। यदि आप देव दीपावली पर गंगा नदी में स्नान न कर पाएं तो अपने घर में ही नहाते समय थोड़ा गंगा जल डालकर स्नान करें।

- भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा के लिए पीला रंग बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसे में देव दिवाली पर भगवान लक्ष्मी नारायण का आशीर्वाद पाने के लिए पीले रंग के वस्त्र अवश्य धारण करें।

- देव दीपावली के दिन भगवान श्री हरि विष्णु की कृपा पाने के लिए विशेष रूप से भगवान सत्यनारायण की कथा सुनें। माना जाता है कि देव दीपावली और पूर्णिमा के दिन भगवान सत्यनारायण की कथा को सुनने या पाठ करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है और सभी कष्ट दूर होते हैं।

देव दीपावली के दिन तुलसी जी की पूजा और सेवा करने का धार्मिक महत्व है। इस दिन घर में तुलसी का पौधा लगाना काफी शुभ माना जाता है। देव दीपावली के दिन तुलसी की 11 पत्तियां लेकर उसकी एक छोटी माला बना लें और उसे विष्णु जी को अर्पित करें। ऐसा करने से जातक पर लक्ष्मी जी और भगवान विष्णु दोनों की कृपा होती है।

देव दीपावली पर क्या न करें?

- देव दीपावली या कार्तिक पूर्णिमा के दिन तामसिक भोजन करने से बचना चाहिए। न तो घर पर और न ही घर के बाहर इस प्रकार का भोजन करें।

- इस दिन धन से संबंधित किसी भी प्रकार का लेन-देन नहीं करना चाहिए। इस दिन न ही किसी से कर्ज लें और न ही किसी को कर्ज दें।

- देव दिवाली के दिन सुबह देर तक नहीं सोना चाहिए। ऐसा करना अशुभ माना जाता है। इस दिन नाखून काटना और शेविंग करना भी उचित नहीं माना जाता है।

देव दीपावली पर साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस दिन घर के सभी हिस्सों को अच्छे से साफ करना चाहिए। कोशिश करें कि कहीं भी जाला न लगा हो। जिस स्थान पर गंदगी होती है, वहां से मां लक्ष्मी नाराज होकर चली जाती हैं।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Ekta Sharma

  • Font Size
  • Close