मल्टीमीडिया डेस्क। मानव जीवन अपने ग्रहचक्र और कर्मो के हिसाब से चलता है। मानव का भाग्य उसके जीवन के समय तय हो जाता है और उसका पूरा जीवनचक्र ग्रहदशा के आसपास चलता रहता है। ग्रहों की दशा अच्छी होने पर मानव जीवन सफल हो जाता है, लेकिन यदि ग्रह विपरीत परिणाम दें तो जीवन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इंसान के सुख को प्रभावित करने वाला ग्रह शुक्र ग्रह है। शुक्र ग्रह के बेहतर होने से मानव को धन,संपत्ति, एश्वर्य और सुख की प्राप्ति होती है।

स्फटिक का संबंध शुक्र ग्रह से है और स्फ्टिक का प्रयोग कर शुक्र ग्रह को बेहतर करने के साथ सुख-संपदा की प्राप्ति कर सकते हैं। स्फटिक का शिवलिंग, स्फटिक श्रीयंत्र, स्फटिक पिरामिड और स्फटिक की माला के मानव जीवन में चमत्कारी परिणाम देखे जाते हैं। सुखों की प्राप्ति और लक्ष्मी के आगमन के लिए स्फटिक से बनी वस्तुओं का प्रयोग किया जाता है। अब हम बात करेंगे स्फटिक की माला के कुछ खास उपायों की।

ये हैं स्फटिक की माला के खास उपाय

स्फटिक की माला का विधिवत पूजन कर सिद्ध कर गले में धारण करने से धन-दौलत में वृद्धि होती है।

स्फटिक की माला का संबंध शुक्र ग्रह से होता है। शुक्र ग्रह की पीड़ा होने की दशा में नियमित रूप से शुक्र ग्रह के मंत्रों का जाप करने से शुक्र ग्रह अच्छा फल देने लगता है।

घर के कलह को मिटाने में भी स्फटिक की माला उपयोगी है। गृह क्लेश मिटाने के लिए देवी पार्वती के मंत्र 'ओम गौरये नम:' का जाप स्फटिक की माला से करें और इस माला को गले में धारण करें।

विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में सफलता हासिल करने के लिए स्फटिक की माला से ' ओम ऐं' मंत्र का जाप करें। परीक्षा में जरूर सफलता मिलेगी।

स्फटिक की प्रकृति शीतलता प्रदान करने वाली होती है, इसलिए उच्च रक्तचाप और गुस्सैल स्वभाव वाले लोगों को स्फटिक की माला धारण करने से लाभ मिलता है।

दाम्पत्य जीवन में यदि खटास आ गई है और दूरियां बढ़ गई है तो पति-पत्नी दोनों को स्फटिक की माला धारण करने से लाभ होता है और दोनों के बीच प्रेम बढ़ने लगता है।

Sun Transit Scorpio 2019: सूर्य करेंगे वृश्चिक राशि में गोचर, जानिए किस राशि में रहेगा कैसा असर

Posted By: Yogendra Sharma