बेमेतरा/नवागढ़। नवागढ़ के वार्ड क्रमांक-9 तिलकपारा में मंगलवार की रात दो बेटों ने धारदार हथियार से पिता की हत्या कर दी। इसके बाद शव के कई टुकड़े किए और चादर में लपेटकर फेंकने के लिए बाइक से जा रहे थे कि संदेह के आधार पर पुलिस ने उनका पीछा किया। इस पर एक भाई तो पकड़ में आ गया, वहीं दूसरा भाग निकला। पुलिस ने शव को बरामद कर लिया है।

अनुच्छेद 370 : छत्तीसगढ़ के प्रोफेसर 6 माह पहले दे चुके थे ऐसा सुझाव

नवागढ़ थाना प्रभारी सीआर ठाकुर ने बताया कि तिलकपारा निवासी भोपसिंह बघेल का मंगलवार की रात बेटों राजू बघेल (24) और मुकेश बघेल (19) से विवाद हुआ था। इसके बाद भोपसिंह सोने चला गया। रात में राजू और मुकेश उसके कमरे में घुसे। राजू ने पिता के हाथ-पैर पकड़ लिए और मुकेश ने लोहे के धारदार पट्टीदार हथियार से कई वार कर हत्या कर दी।

बिहार के विधायक का करीबी निकला छात्रों को ठगने वाला

शव के टुकड़ों को चादर में लपेटकर बाइक से जा रहे थे। रात दस बजे गश्त के दौरान संदेह होने पर पीछा किया गया। ग्राम रनबोड़ कच्ची सड़क के किनारे स्थित बांधा तालाब में गठरी फेंककर राजू बाइक से कूदकर भाग निकला। वहीं मुकेश को दबोच लिया गया। परिजनों के मुताबिक भोपसिंह शराब और जुआ का आदी था। इन्हीं लत के चलते वह 10 एकड़ पिश्तैनी जमीन बेच चुका था। मकान भी बेचने वाला था। इसे लेकर ही बेटों से विवाद चल रहा था।

छत्तीसगढ़ में योग ट्रेनर को मिल सकता है प्रतिदिन 500 से 700 रुपए मानदेय

OMG : हर साल बढ़ जाती है इस शिवलिंग की ऊंचाई