Sapne Mein Pani Dekhna: नींद और सपनों का गहरा संबंध है। रात को जब हम गहरी नींद में होते हैं। तब हम अलग-अलग प्रकार के अच्छे-बुरे सपने देखते हैं। कुछ याद रहते हैं तो कुछ भूल जाते हैं। लेकिन गौर करने वाली बात है कि क्या सच में सपने हमारे जीवन में घटित होने वाली किसी प्रिय-अप्रिय घटना की ओर संकेत करते हैं। स्वपन्न शास्त्र में सपने में देखी गई चीजों का फल बताया जाता है। स्वप्नों को भविष्यसूचक माना जाता है। यह इस तथ्य पर आधारित है - स्वप्न विज्ञान। स्वप्न विज्ञान में माना जाता है कि सपने हमारे भविष्य की ओर इशारा करते हैं। सपनों के माध्यम से कोई भी व्यक्ति जान सकता है कि उसके जीवन में आने वाला समय कैसा रहेगा। इसीलिए स्वप्न विज्ञान को बहुत महत्व दिया जाता है। कहा जाता है कि इसमें बताए गए सपने सच होते हैं। अगर हम सपनों के इन अर्थों को गहराई से समझ लें तो इनका भविष्य से परिचय करा सकते हैं। अगर लोग सपने में पानी देखते हैं तो आइए जानते हैं इसका क्या मतलब होता है।

बहता हुआ पानी देखना

यदि आपको सपने में बहता हुआ पानी दिखाई दें, तो आपके जीवन में उतार-चढ़ाव बना रहेगा। स्वप्न शास्त्र के अनुसार ऐसा सपना देखने का मतलब भविष्य में आपका किसी से वाद-विवाद होना दर्शाता है। वहीं, आपको समुद्र का पानी दिखाई देता है तो आपको अपनी भाषा और बोलचाल पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है। अन्यथा कोई बड़ा विवाद हो सकता है।

नदी देखना

यदि आपको सपने में नदी दिखाई देती है तो यह आपके लिए शुभ संकेत है। स्वपन्न शास्त्र के अनुसार सपने में नदी देखने का मतलब होता है कि बहुत जल्द आपकी इच्छाएं पूरी होने वाली हैं।

नदी-तालब में किसी को तैरते हुए देखना

यदि आप सपने में किसी भी व्यक्ति विशेष को नदी-तालाब में तैरता हुआ देखते हैं तो यह सपना आपके लिए शुभ संकेत लेकर आता है।

बारिश का पानी दिखाई देना

स्वपन्न शास्त्र के अनुसार सपने में बारिश का पानी देखना सफलता मिलने की ओर इशारा करता है। ऐसे सपने का अर्थ धनलाभ मिलना भी होता है। बारिश का पानी देखने से आपकी तमाम ख्वाहिशें पूरी हो सकती हैं। नया वाहन भी खरीदने का संकेत होता है ऐसा सपना। .

साफ पानी दिखाई देना

स्वप्न शास्त्र के अनुसार सपने में साफ पानी दिखना भी शुभ माना जाता है। ऐसे सपना आपकी साफ छवि की ओर इशारा करता है। ऐसे सपने देखना का अर्थ कार्यक्षेत्र में आपकी पद्धोन्नति होना दर्शाता है। ऐसे में आपको धन लाभ हो सकता है। इसके अलावा समाज में भी मान सम्मान बढ़ने की ओर इशारा करता है।

पानी का कुंड दिखाई देना

स्वप्न शास्त्र के अनुसार अगर सपने में पानी का कुंड दिखाई दे तो इसका संबंध धन संकेत माना जाता है।

भरा हुआ कुंआ

स्वन्न शास्त्र के अनुसार यदि सपने में भरा हुआ कुंआ दिखाई दे तो यह एक शुभ स्वप्न माना जाता है। इसका अर्थ आपका मनचाहा काम पूरा होना दर्शाता है।

सपने में साफ पानी देखना

स्वप्न शास्त्र के अनुसार जिन लोगों को सपने में साफ पानी दिखाई देता है उन्हें इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि जानकारों का मानना ​​है कि सपने में साफ पानी देखना शुभ माना जाता है। माना जाता है कि इस सपने को देखने से सफलता मिलने की संभावना बढ़ जाती है। सुख-समृद्धि बढ़ाने के साथ ही सपने में साफ पानी देखना बहुत ही सकारात्मक माना जाता है।

सपने में गंदा पानी देखना

अगर आप सपने में गंदा पानी देखते हैं तो यह एक अशुभ सपना हो सकता है। ऐसा माना जाता है कि ऐसे सपने आने वाले जीवन में किसी परेशानी या परेशानी का संकेत हो सकते हैं। स्वप्न शास्त्र के अनुसार यदि आप कोई शुभ या नया कार्य प्रारंभ करने जा रहे हैं तो इस स्वप्न के बाद कार्य को टालने का प्रयास करें।

कुएं का पानी देखना है शुभ संकेत

विद्वानों के अनुसार सपने में कुएं का पानी देखना बहुत शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि यह सपना आने वाले दिनों में जातकों को लाभ का संकेत देता है। साथ ही स्वप्न शास्त्र में ऐसा वर्णन है कि सपने में कुएं का पानी देखना भी किसी भी कार्य में सफलता प्राप्त करने में कारगर होता है।

सपने में नदी का पानी देखना

शुभ सपनों में नदी का पानी देखना भी शामिल है। स्वप्न शास्त्र के अनुसार यह सपना इस बात का संकेत करता है कि आने वाले समय में जिन लोगों को सपने में नदी का पानी दिखाई दे उनके मन की इच्छा जल्द ही पूरी हो सकती है। साथ ही यह सपना यश और मान-सम्मान में वृद्धि करने वाला भी माना जाता है।

Surya Dev: सूर्य देव की आराधना से दूर होते हैं ये 3 प्रकार के बड़े रोग

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close