बीजिंग India China Dispute । लद्दाख सीमा पर तैनात भारतीय सैनिकों के पराक्रम को देखकर अब चीनी सैनिक भी घबराए हुए हैं। इन दिनों सोशल मीडिया पर चीन के सैनिकों का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें काफी रोते हुए नजर दिख रहे हैं और वीडियो के साथ यह दावा किया गया है कि ये सैनिक भारत सीमा पर अपनी पोस्टिंग होने के चलते दुखी हैं और भारतीय सैनिकों से पराक्रम को देखकर भय में है। ताइवान न्यूज की रिपोर्ट में खुलासा करते हुए कहा गया है कि वीडियो को पहले चीनी सोशल मीडिया वीचैट पर पोस्ट किया गया था, लेकिन बाद में चीनी सेना की बदनामी के चलते हटा दिया गया था। साथ ही ऐसी भी जानकारी मिली है कि यह वीडियो फूयांग रेलवे स्टेशन जाते समय बस में शूट किया गया था। सेना में भर्ती हुए इन जवानों को ट्रेनिंग के बाद भारत से लगी सीमा पर तैनाती के लिए भेजा जा रहा था और उस समय ये चीनी सैनिक काफी दुखी थे।

रोते-रोते गाना गा रहे थे चीनी सैनिक

वीडियो में चीनी सैनिक रोते हुए चीनी सेना का गीत ‘ग्रीन फ्लॉवर्स इन द आर्मी’ गाते दिखाई दे रहे हैं। इधर चीन के पिछलग्गू पाकिस्तान भी इस वीडियो का अब मखौल उड़ाया जा रहा है और पाकिस्तानी कॉमेडियन जैद हामिद ने भी इस वीडियो को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट किया था। हामिद ने चीनी सेना पर निशाना साधते हुए कहा था कि चीन की एक बच्चे वाली नीति के चलते हमारे चीनी भाइयों का प्रेरणास्तर गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है।

चीन को मुंहतोड़ जवाब दे रही भारतीय सेना

लद्दाख में भारतीय सेना लगातार चीन को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। और चीन के सैनिकों की घुसपैठ की कोशिश को भी उसने नाकाम किया था। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी इस बात से नाराज थे कि चीनी सेना भारतीय फौजियों को देखकर पीछे क्यों हट गए। गौरतलब है कि पैंगोंग झील के दक्षिणी हिस्से में भारतीय सेना ने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कई चोटियों पर कब्जा कर लिया है। भारतीय सेना के पराक्रम से चीनी सैनिक खौफ में हैं, इसलिए वह आमने-सामने के टकराव से बच रहे हैं।

पैंगोंग में भारतीय जवानों की बढ़त से खौफ में चीन

सीमा विवाद के लेकर भारत और चीन के बीच जारी वार्ता एक बार फिर से बेनतीजा रही। भारतीय वार्ताकार पूर्वी लद्दाख में सभी विवादित जगहों से सेना को हटाने और यथास्थिति की बहाली की मांग कर रहे हैं। उधर, चीन भी इस बात पर जोर दे रहा है कि भारत पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर स्थित रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण ऊंचाई वाली चोटियों से अपने जवानों को हटाए। हालांकि भारत और चीन के बीच कमांडर लेवल की छठे दौर की मीटिंग में महत्वपूर्ण सहमति भी बनी है।

चीन ने VT-4 टैंक की तकनीक पाकिस्तान को दी

भारत की पराक्रमी सेना के आगे घुटने टेकने वाला चीन अब पाकिस्तान के जरिए भारत पर निशाना साध रहा है। लद्दाख में हारे चीन ने VT-4 टैंक की नई तकनीक पाकिस्तान को दी है। VT-4 चीन का प्रमुख युद्धक टैंक है, जिसे MBT-300 भी कहते हैं। चीन में बने VT-4 टैंक को थर्ड जेनेरेशन टैंक माना जाता है, जिसका इस्तेमाल PLA करती है।

अमेरिका तकनीक से काफी पीछे है चीन के लड़ाकू विमान

चीन ने भले ही पाकिस्तान को VT-4 टैंक तकनीक देकर भारत को घेरने की कोशिश कर रहा हो लेकिन लड़ाकू विमान के मामले में भी चीन अमेरिका से काफी पीछे है। समाचार पत्र 'साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट' ने बुधवार को कहा कि छठी पीढ़ी के लड़ाकू विमान के मामले में अमेरिका दुनिया में सबसे आगे है। अमेरिकी वायुसेना के मुताबिक उसके पास ऐसी तकनीक है, जिसे चीन को इसे हासिल करने में कई वर्ष लगेंगे।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020