Lemon For Hangover: शराब पीने के बाद शरीर कंट्रोल खो देता है। साथ ही व्यक्ति होश खो बैठता है। वहीं बोलने में परेशानी होने लगती है। जैसे ही कोई अल्कोहल का सेवन करता है। शरीर में गैस्ट्रिक एसिड का उत्पादन होता है। कई लोग बाद में बीमार महसूस करते हैं और वोमिटिंग करते हैं। नींबू पानी को नशे की दवा के रूप में किया जाता है। क्या सच में नशे में धुत व्यक्ति के लिए नींबू पानी कारगार है। विशेषज्ञों के अनुसार नींबू नशे के प्रभाव को कम करने में मददगार है।

शराब का दुष्प्रभाव

एक अमेरिकी वेबसाइट नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन पर एक रिपोर्ट उपलब्ध है। इस अध्ययन में शराब से होने वाले लीवर के नुकसान और उसपर नींबू रस के प्रभाव का मूल्यांकन किया गया। चूहों पर किए गए प्रयोगों से पता चला कि नींबू का रस शराब से होने वाले लीवर की क्षति को कम करने में कारगार है। विशेषज्ञों के अनुसार नींबू का साइट्रिक एसिड शराब में इथेनॉल के साथ प्रतिक्रिया करके खमीर बनाता है। यह शराब के दुष्प्रभाव को कम करता है।

यह भी पढ़ें-घर पर बनाएं बियर्ड ऑयल, चमकदार और घनी दाढ़ी का सपना होगा पूरा

लीवर की क्षमता प्रभावित

जिन लोगों ने कम शराब पी है। उनके लिए नींबू का रस कारगर होता है। हालांकि किसी ने बहुत अधिक अल्कोहल पी रखी है तो उसे नींबू से लाभ नहीं होगा। दरअसल, शराब पीने के बाद इंसान का लीवर उसे पचाने की कोशिश करता है। इस प्रक्रिया में कुछ समय लगता है। अधिक शराब का सेवन करने से लीवर की पचाने की क्षमता कम हो जाती है। उसके बाद आपके ब्लड में शराब घुलने लगती है। नींबू पेट में एसिड बनाता है और उल्टी का कारण बन सकता है।

शरीर में पानी की कमी

शराब पीने के बाद शरीर से अल्कोहल निकालने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है। शराब पेशाब और पसीने के जरिए बाहर निकल जाती है। डिहाइड्रेशन से शरीर में पानी की कमी हो जाती है। ऐसे में नशे में व्यक्ति को ज्यादा पानी पिलाना चाहिए। यह शरीर में पानी की कमी को दूर करता है। शराब के विषैले तत्वों को पेशाब के जरिए शरीर से बाहर निकाल देता है।

यह भी पढ़ें- लो ब्लड प्रेशर भी है जानलेवा, नॉर्मल बनाए रखने के लिए इन चीजों का करें सेवन

डिस्क्लेमर

'यह लेख सामान्य जानकारी के आधार पर लिखा गया है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा डॉक्टर्स की सलाह जरूर लें। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Kushagra Valuskar

  • Font Size
  • Close